केन्द्रीय वक्फ परिषद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
केन्द्रीय वक्फ परिषद
Central Wakf Council
स्थापना 1964
मुख्यालय 14/173, जामनगर हाउस, शाहजहां मार्ग, नई दिल्ली-110011
क्षेत्र
भारत
आधिकारिक भाषा
हिन्दी, अंग्रेजी, ऊर्दू
अध्यक्ष
अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय के राज्य मंत्री.[1]
मुख्य अंग
परिषद्
संबद्धता अल्पसंख्यक मामलों का मंत्रालय, भारत सरकार।
जालस्थल Official website

केन्द्रीय वक्फ परिषद वक्फ बोर्ड के कामकाज से सम्बन्धित मुद्दों और देश में वक्फ के समुचित प्रशासन से सम्बन्धित मुद्दों के बारे में परामर्श देने के लिए केन्द्रीय वक्फ परिषद् की स्थापना एक स्थायी इकाई के रूप में की गई।[2][3][4] केन्द्र सरकार ने इसकी स्थापना दिसम्बर, 1964 में वक्फ अधिनियम 1995 के अन्तर्गत की वक्फ के प्रभारी केन्द्रीय मन्त्री, केन्द्रीय वक्फ परिषद् के 20 अन्य सदस्य होते हैं केन्द्रीय वक्फ परिषद् इन समुदायों के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है इसके द्वारा लागू की जाने वाली योजनाएँ हैं।

वक्फ, परोपकारी लोगों द्वारा दिए गए, मुस्लिम कानून द्वारा मान्यता प्राप्त पान्थिक, पवित्र उद्देश्यों के लिए चल या अचल सम्पत्तियों का एक स्थायी समर्पण है। अनुदान को मुसर्रत-उल-खिदमत के रूप में जाना जाता है, जबकि ऐसा समर्पण करने वाले व्यक्ति को वाकिफ़ के रूप में जाना जाता है।

1 शहरी वक्फ सम्पत्तियों का विकास
2 शैक्षिक विकास कार्यक्रम।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Members". CFC website. मूल से 4 अक्तूबर 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 23 फ़रवरी 2017.
  2. Introduction Archived 2011-07-28 at the Wayback Machine Tamilnadu Wakf Board website.
  3. Ariff, Mohamed (1991). The Islamic voluntary sector in Southeast Asia. Institute of Southeast Asian Studies. पृ॰ 42. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 981-3016-07-8. मूल से 19 अक्तूबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 8 जनवरी 2018.
  4. Gupta, K.R.; Amita Gupta (2006). Concise encyclopaedia of India, (Volume 1). Atlantic Publishers. पृ॰ 191. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-269-0637-5.