कुहनी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कुहनी

कुहनी बाँह के ऊपरी और निचले हिस्सों के बीच दृश्यमान संधि है। कुहनी मनुष्यों और अन्य नरवानर की विशिष्ट खूबी है। अन्य संधि की तरह कुहनी के दोनों तरफ स्नायु होते हैं। कोहनी का कार्य हाथ का विस्तार और लचीला कर वस्तुओं को पकड़ने और पहुंचने के लिए है। मनुष्यों में, कोहनी का मुख्य कार्य ऊपरी अंग को छोटा करके और लंबा करके हाथ को सही ढंग से रखना है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]