किर्कबरोन, ऊमेओ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
किर्कबरोन
Kyrkbron-ramp 2011-08-31.jpg
उत्तरी राह
निर्देशांक63°49′15″N 20°16′0″E / 63.82083°N 20.26667°E / 63.82083; 20.26667निर्देशांक: 63°49′15″N 20°16′0″E / 63.82083°N 20.26667°E / 63.82083; 20.26667
ले जाता हैवाहन, पैदल और साइकल
को पार करती हैऊमे नदी
स्थानीयऊमेओ
रखरखावऊमेओ नगरपालिका
आईडी संख्याAC 1342[1]
विशेषता
सामग्रीReinforced concrete
कुल लंबाई391 मीटर[1]
चौड़ाईWest bridge: 11–19 m
East bridge: 13–20 m[1]
स्पैन संख्या11[1]
Clearance above3.8 मीटर[2]
इतिहास
द्वारा निर्मितAB Vägförbättringar[3]
निर्माण शुरू16 जून 1972[3]
निर्माण बंद26 सितंबर 1975[4]
आँकड़े
दैनिक यातायात13 300 वाहन and 1 900 साइकलs[5]

किर्कबरोन ऊमेओ शहिर में ऊमे नदी पर स्थित एक पुल है। इसका निर्माण 1973 में शुरू हुआ और 26 सितंबर 1975 में संपन्न हुआ। यह ऊमे नदी का तीसरा पुल है। 1960 के दशक से लेकर 1970 तक यह बहिस होती रही कि क्या इस पुल को गिरजे के पास बनाया जाए याँ नहीं। इसके निर्माण दौरान एक कब्रिस्तान मिला जिसके कारण पुरातत्व विज्ञानियों द्वारा खुदवाई करवाई गई।

इतिहास[संपादित करें]

पृष्ठभूमि[संपादित करें]

1930के दशक में यह बात साफ़ हो गई थी कि ऊमेओ का एकलोता पुल गमला बरोन बड़ रही आवाजाई का सामना नहीं कर पायेगा। वैस्टरबाटन में काउंटी बोर्ड ने वास्तुकार ओ.एच.गराहनेन के आदेश दिए कि एक नए पुल बनाने की योजना बनाई जाए। गराहनेन ने 16 जुलाई 1936 के भिन-भिन योजनायों का प्रस्ताव रखा। उनमें से एक योजना ऊमेओ शहिर के गिरजे के पास ओसत्रा किरकोगातां तक एक पुल बनाने की थी। इसमें एक मुख्य समस्या यह थी कि इस पुल के कुछ हिस्से हिलने वाले होने चाहिए थे तांकि इसके निचे से जहाज गुजर सके। ऐसी योजना बहुत ही महिंगी मानी गई थी।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Ritning 3310-07.
  2. "Båtar och hamnar". Stadsledningskontoret, Umeå kommun. 6 जुलाई 2012. मूल से 12 जनवरी 2014 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जनवरी 2014.
  3. Kommunkansliet 1975, पृष्ठ 19
  4. Sjöström 1989, पृष्ठ 93
  5. "Underlag för trafikplaneringen i Umeå centrum" (PDF). Umeå kommun. 7 अक्टूबर 2005. मूल (PDF) से 24 सितंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जनवरी 2014.