काहिरा नगर क्षेत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
काहिरा नगर क्षेत्र में स्थित प्रसिद्ध तलात हर्ब मार्ग

निर्देशांक: 30°02′51″N 31°14′18″E / 30.04750°N 31.23833°E / 30.04750; 31.23833 काहिरा नगर क्षेत्र या डाउनटाउन कायरो (अरबी: وسط البلدवस्सत अल-बलाड) काहिरा, मिस्र में स्थित है। यह शहर का मुख्य व्यापारिक क्षेत्र व ज़िला है।

इतिहास[संपादित करें]

मिस्र के शासक ईस्माइल पाशा ने रणनीतिक सूझबूझ के साथ जज़ीरा द्वीप के सामने नील नदी के पूर्वी किनारों को दोबारा पाने और नील नदी पर पेरिस जैसा शहर बनाने का फैसला लिया। नदी का निचला क्षेत्र जो उसके तालाबों, दलदल, गीली मिट्टी और लाखों लोगों के निवास वाले प्राकृतिक जलधारा के तटीय क्षेत्र ने इसे बहुत ही उम्मीदों वाली फलदायी नागरिक अभियांत्रिकी परियोजना बना दिया।[1] १८७४ में जब काफी हद तक ढाँचागत निर्माण पूरा हो गया तब ईस्माइल पाशा ने भवनों के रख रखाव, साज सज्जा व निर्माण आदि के लिए बहुत बडी राशि खर्च करने की शर्त रखी जिससे यहाँ सिर्फ विशिष्ट, धनवान और प्रभावशाली व्यक्ति ही रह सकते थे।[1] इसकी वजह से शुरुवाती वर्षों में इसने बहुत सारे धनाढ्यों को आकर्शित किया। इसकी वजह से यह क्षेत्र बहुत महत्वपूर्ण हुआ, इसका और आसपास के क्षेत्रों का तेजी से विकास हुआ और यहाँ व्यवसायिक गतिविधियाँ बढ गई।[1] यहाँ के मार्गों और उसके नए भवनों की बनावट एक नए अंतर्राष्ट्रीय स्तर का शहरी जनपद बनाने की कवायद का हिस्सा थे जिसका उद्देस्य तमाम नई विदेशी उपक्रमों को मिस्र की समृद्ध एतिहासिक इस्लामी धरोहर से जोड़ना था।

कैफे रिची[संपादित करें]

कैफ़े रिची

नगर के सबसे प्रसिद्ध प्रतीक चिन्हों में २९ तलात हर्ब मार्ग स्थित १९०८ में निर्मित कैफे रिची रेस्त्राँ है।[2] पिछले एक शताब्दी में यहाँ मिस्र की बहुत सारी महत्वपूर्ण घटनाएँ हुईं। जैसे यहीं पर मिस्र के राजा फारूक ने अपनी दूसरी पत्नी नरिमन सडेक को देखा था[2], १९१९ में मिस्र के प्रधानमंत्री युसूफ वहबा को मारने का प्रयास करने वाले अपराधियों ने उनका यहीं पर इन्तज़ार किया था[2], और यहीँ पर १९१९ की क्राँति के असँख्य सिपहसलार इसके तहखानों में मिलते थे, योजनाएँ बनाते थे और आंदोलन से जुडी पर्चियाँ छापते थे।[2] बाद में कैफे रिची बुद्धिमान लोगों के लिये मिलने जुलने व वार्तालाप की जगह बना।

ग्रोप्पी[संपादित करें]

जे. ग्रॉपी चॉकलेटियर, दुकान और कैफ़े का अग्रभाग

तलात हर्ब मार्ग पर स्थित आइस क्रीम की यह दुकान शहर की बेहद प्रसिद्ध व पुरानी दुकानों में से है। इसके मालिक इटली के प्रसिद्ध ग्रोप्पी परिवार से ताल्लुक रखते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. अबु गलील, हम्दी। कायरो स्ट्रीट्स & स्टोरीज़। द एज़िप्सियन पब्लिक बुक एसोसिएसन, कायरो: 2007।
  2. "ए रिचे हिस्ट्री : द कैफे एट द हर्ट ऑफ रेवोल्युस्नरी कायरो।". द एकोनॉमिस्ट. 17 दिसम्बर 2011. अभिगमन तिथि 29 दिसम्बर 2011.