कान्यकुब्ज ब्राह्मण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

कान्यकुब्ज ब्राह्मण एक ब्राह्मण समुदाय है जो मुख्य रूप से उत्तरी भारत में पाया जाता है। इन्हे विन्ध्याचल पर्वत शृंखला के उत्तरी हिस्से के मूल निवासी पंच गौड़ ब्राह्मण (मैथिल ब्राह्मण, कान्यकुब्ज ब्राह्मण, सारस्वत ब्राह्मण, उत्कल ब्रह्मण, गौड़ ब्राह्मण) समुदायों में से एक के रूप में वर्गीकृत किया गया है। कान्यकुब्ज ब्राह्मण पांडित्य का कार्य करते हैं।

[1] कान्यकुब्ज ब्राह्मणों के आसप्द निम्न हैं: -

कन्नौजिया, बाजपेई, दुबे, द्विवेदी, त्रिवेदी, त्रिपाठी, तिवारी, पाठक, उप्रेती, अग्निहोत्री, पांडेय, चौबे, उपाध्याय, शुक्ला, अवस्थी, चतुर्वेदी,भट्ट, दीक्षित, बेनर्जी, चटर्जी, मुखर्जी, भट्टाचार्य, गांगुली, चक्रवर्ती, राय, जोशी आदि।


संदर्भ- दशविध ब्राह्मण संहिता ,वृहतकान्यकुब्जवंशावली।।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Upinder Singh (2008). A History of Ancient and Early Medieval India. Pearson Education India. पृ॰ 575. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788131711200. मूल से 30 मार्च 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 जुलाई 2019.