कल्पना मोरपारिया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कल्पना मोरपारिया 'जेपी मॉर्गन' में इंडिया की मुख्य कार्यकारी अधिकारी है। वे कंपनी के निवेश बैंकिंग, संपत्ति प्रबंधन और दूसरे महत्वपूर्ण कार्यों का नेतृत्व करती हैं। इसके पूर्व वे आईसीआईसीआई बैंक बैंकिंग बोर्ड की उपाध्यक्ष रह चुकी हैं। इसी बैंक में उन्होंने साल 2001 से 2007 तक संयुक्त प्रबंध निदेशक के रूप में भी काम किया।

वालसिंघम हाउस स्कूल मुंबई से स्कूली शिक्षा के पश्चात मुंबई विश्वविद्यालय से कानून में स्नातक, मोरपारिया ने, भारत सरकार की कई महत्वपूर्ण समितियों में भी बतौर सदस्य काम किया है। फॉर्चून मैगजीन में उन्हें दुनिया की 50 सबसे प्रभावशाली महिलाओं में शामिल किया था।[1][2] दिलचस्प बात यह है कि कल्पना की पढ़ाई साइंस और लॉ में है। वह एक कॉरपोरेट लॉयर बनना चाहती थीं। लेकिन एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि आईसीआईसीआई बैंक के पूर्व सीईओ केवी कामथ की प्रेरणा से वह कॉरपोरेट लॉयर न बनकर कॉरपोरेट लीडर बन गईं।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]