कलम बांधना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Innesti-01.png

कलम बांधना (ग्राफ्टिंग/Grafting या graftage) उद्यानिकी की एक तकनीक है जिसमें एक पौधे के ऊतक दूसरे पौधे पौधे के ऊतकों में प्रविष्ट कराये जाते हैं जिससे दोनों के वाहिका ऊतक आपस में मिल जाते हैं। इस प्रकार इस विधि से अलैंगिक प्रजनन द्वारा पौधे तैयार किये जाते हैं।

कलम के प्रकार[संपादित करें]

छांट कलम[संपादित करें]

यह कलम खरीब एवं रवी के मौसम मे किए जाते हैं|कलम हेतु अंजीर,अंगूर,सेवन्ती,अनेक वार्षिक वृक्ष,चमेली ,जुली इत्यादि मे छांट कलम किए जाते हैं | छांट कलम करने के लिए सबसे पहले मिट्टी एवं गोबर की खाद 3:1 के अनुपात मिलाए|उसे प्लास्टिक की थैली में भरें और उसमें पानी डालें|छाँट कलम हेतु आम पौधे के डाल को एक और तिरछा काटकर कलम को नीचे के तरफ संजीवक लगाओ | संजीवक लगाए हुये भाग को पानी डाली हुयी थैली में लगाओ|छाँट के ऊपर वाले हिस्से मे गोबर लगाकर प्लास्टिक से बांध दीजिये|थैली मे हमेशा नमी बना रहे उसी हिसाब से पानी डालें|नर्सरी अथवा आर्द्रता कक्ष मे रखें |20 से 25 दिनों मे जड़े निकलना शुरू हो जाता है|फिर काले ग्राफ्टिंग प्लास्टिक बेग में खाद एवं मिट्टी का मिश्रण भरकर तैयार पौधे को रखें|एक सप्ताह के बाद आप इसे लगा सकते हैं |

गुट्टी कलम[संपादित करें]

यह कलम बरसात के मौसम मे किए जाते हैं|गुट्टी कलम हेतु अनार के पौधे मे प्रयोग किया जा सकता है|गुट्टि कलम के लिए आम या अन्य पौधे की पतली शाखा लेकर एक से डेढ़ इंच गोलाकार छिलका निकालो|छाल निकालें हुये जगह पर संजीवक लगाओ |अब उसी जगह गीला किया हुआ स्पग्रामाँस (काई)लगाकर उस हिस्से को प्लास्टिक की पट्टी से बंद करो | स्पग्रामाँस (काई)को को गीला करके लगाते है क्योंकि कलम तैयार होते समय उसे पानी की आवश्यकता होती है|और वह स्पग्रामाँस (काई)से पानी का शोषण कर लेती है|स्पग्रामाँस का पानी जब समाप्त हो जाता है ,तब स्पग्रामाँस (काई) हवा से आद्र्त शोषित करता है और कलमों मे पानी की आवश्यकता पूरी हो जाती है|इसलिए गुट्टि कलम करते समय स्पग्रामाँस (काई)का उपयोग किया जाता है |

दाब कलम[संपादित करें]

दाब कलम बरसात के मौसम मे किए जाते हैं दाब कलम करने के लिए कागजी नीबू,अमरूद,बेल इत्यादि पौधे पर दाब कलम किया जाता है|सर्वप्रथम मिट्टी एवं गोबर की खाद 3:1 के अनुपात मे मिश्रण बनाकर गमलें में डालिए|अमरूत के पेड़ की जमीन छूती हुयी डाल को कलम के लिए चुने|डाली के चोटी से 2 फिट पहले डाली के निचले भाग को 1-2 इंच लंबाई मे तिरछा छिल लीजिये|तिरछे काटे हुये भाग पर नारियल का सूखा छिलका रखों और संजीवक लगाकर उस हिस्से को गमले मे रखकर उसे मिट्टी मे दबा दो दबाए गए भाग पर वजन रखकर कुंडी मे पानी डालो |


संदर्भ[संपादित करें]

https://web.archive.org/web/20180902071325/http://learningwhiledoing.in/InnerPages/LessonDetails.aspx?LessonId=39&Category=Books%20&SubCategory=Hindi%20Books&CategoryId=12&Title=IBT%20Agriculture%20Hindi%20Book%20PDF https://web.archive.org/web/20200507001327/https://en.wikipedia.org/wiki/Grafting

इन्हें भी देखें[संपादित करें]