कर्षण (इंजीनियरी)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रोल करके चलती हुई वस्तु पर लगने वाले बल

किसी वस्तु को किसी समतल पर चलाने के लिए लगाया गया बल कर्षण (Traction या tractive force) कहलाता है। यह बल मुख्यतः शुष्क घर्षण को जीतने के लिए लगाना पड़ता है।

विविध प्रकार के कर्षण[संपादित करें]

जर्मनी के DB E 40 शृंखला कर्षण मोटर उनसे घुमाए जाने वाले दो पहिए। इसके लिए एक-फेजी सीरीज मोटर का उपयोग किया गया है।

ली गयी ऊर्जा के आधार पर[संपादित करें]

बल लगाने के स्थान के आधार पर[संपादित करें]

  • आगे के पहिये की ड्राइव वाला
  • पीछे के पहिये की ड्राइव वाला
  • स्वतंत्र ड्राइव (प्रत्येक पहिये के लिये एक ड्राइव)
  • सम्पूर्ण कर्षण

अन्य[संपादित करें]

  • मानव कर्षण
  • पशु कर्षण
  • केबल कर्षण

इन्हें भी देखें[संपादित करें]