कर्मनाशा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कर्मनाशा नदी झारखण्ड और बिहार और उत्तर प्रदेश में बहने वाली एक नदी है। इस पर राज दरी देव दरी जलप्रपात हैजिसकी उचाई ५८मी है। इसका मिथकीय इतिहास भी है। कहते हैं त्रिशंकु के स्शरीर स्वर्गारोहण की कथा से संबंधित है।इस नदी के किनारे उत्तर प्रदेश के चन्दौली जिला के चाकिया तहसील के पीतपूर मेें महान सन्त बनवारीदास की समाधी है जो 12 वीं सदी के महान समाज सुधारक थे। इस नदी पर उत्तर प्रदेश में कई बांध हैं। मूसाखाड सबसे बडा बांध है।इसी नदी के किनारे नौगढ का किला चन्द्रकान्ता गेस्ट हाऊस भी है तथा पूर्व बनारस स्टेट के अनेक निर्माण मौजुद हैंं जो काफी रोमान्चक व ईतिहास से भरे हैंं। यह नदी बिहार और उत्तर प्रदेश को विभाजित करती है। इस नदी के किनारे बाबा लतीफ साह व बाबा बनवारी दास के समाधि स्थल पर भगवान श्री कृष्ण के बरही के उपलक्ष में ऋषि पंचमी के दिन जनपद चंदौली के तहसील चकिया अंतर्गत ग्राम पीतपुर में तीन दिवसीय बड़े मेले का आयोजन होता है तथा सितंबर माह के 6 व 7 सितंबर को बड़े हर्ष उल्लास के साथ बाबा बनवारी दास का वार्षिक सिंगार भी होता है