ओरैकल डाटाबेस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

साँचा:Cleanup-jargon

Oracle Database
Oracle logo.svg
विकासकर्ता Oracle Corporation
स्थिर रिलीज़

11g R2

/ 2009-09-01; 9 वर्ष पहले
प्रोग्रामिंग भाषा C
प्रचालन तंत्र Cross-platform
में उपलब्ध Multilingual
प्रकार RDBMS
लाइसेंस Proprietary
जालस्थल www.oracle.com

Oracle - डाटाबेस (सामान्य रूप से Oracle RDBMS अथवा सरलता से Oracle कहा जाता है) Oracle कार्पोरेशन द्वारा निर्मित तथा मार्केट किया हुआ संबंधात्मक डाटाबेस प्रबंधन सिस्टम (RDBMS) है। 2009 के अनुसार , डाटाबेस कंप्यूटिंग में, Oracle एक प्रमुख नाम है।[1]

लैरी एलीसन तथा उनके मित्रों तथा पूर्व सह-कार्यकर्ता बॉब माइनर तथा एड ओएट्स ने सॉफ्टवेयर डेवलपमेन्ट लेबोरेटरीज (SDL) के नाम से 1977 में परामर्श संस्था प्रारंभ की। SDL ने Oracle सॉफ्टवेयर के मूल संस्करण का विकास किया है। Oracle, पूर्व में एम्पेक्स द्वारा नियुक्ति के समय एलीसिन द्वारा कार्य की गई सी आई ए-फन्डेड परियोजना के कोड नाम से विकसित हुआ है।[2]

अनुक्रम

भौतिक तथा तार्किक ढ़ांचा:[संपादित करें]

अल्फानुमेरिक सिस्टम आयडेन्टिफायर अथवा एस आई डी[3] द्वारा चिन्हित एक Oracle डाटाबेस, में डाटा स्टोरेज के साथ कम से कम अनुप्रयोग का एक तरीका निहित होता है। एक तरीका- लगातार इन्स्टेन्शियशन संख्या (अथवा एक्टिवेशन ID.SVS.V_$DATABASE.ACTIVATION#) द्वारा चिन्हित किया गया है- इसमें स्टोरेज के साथ अन्तर्क्रिया करने वाले परिचालन प्रणाली प्रक्रिया तथा मेमोरी ढ़ांचों का एक सेट निहित होता है। महत्त्वपूर्ण प्रक्रिया में PMON (प्रोसेस मॉनीटर) तथा SMON (सिस्टम मॉनीटर) निहित होते हैं।

Oracle डाटाबेस के उपभोक्ता सर्वर-साइट मेमोरी ढ़ांचे को SGA (सिस्टम ग्लोबल क्षेत्र) के रूप में सन्दर्भित करते हैं। SGA महत्त्वपूर्ण रूप से डाटा बफर्स, SQL कमान्ड, तथा उपभोक्ता सूचना जैसी कैशै सूचना निहित करता है। स्टोरेज के अतिरिक्त, डाटाबेस में ऑन लाइन रीडो लॉग्स (अथवा लॉग्स) होता है जिसमें ट्रान्जेक्शनल इतिहास निहित होता है। प्रक्रियाएं बारी से ऑनलाइन रीडो लॉग्स को आरकाइव लॉग्स (ऑफलाइन रीडो लॉग्स) में भंडारित कर सकती है जो डाटा वसूली तथा डाटा प्रतिकृति के कुछ प्रकारों के लिये आधार (यदि आवश्यक हो तो) उपलब्ध कराती हैं।

यदि Oracle डाटाबेस एडमिनिस्टर ने Oracle RAC (असली अनुप्रयोग क्लस्टर्स) कार्यान्वित किया है, तो सामान्य रूप से विभिन्न सर्वर्स पर बहुविधि उदाहरण केन्द्रीय स्टोरेज ऐरे से संलग्न होते हैं। यह परिदृष्य बेहतर निष्पादन, परिमापकता तथा प्रचुरता जैसे लाभ प्रदान करता है। यद्यपि, सहायता अधिक जटिल हो जाती है तथा कई साइट आर ए सी का प्रयोग नहीं करतीं. 10g संस्करण में, ग्रिड गणना ने विभाजित स्त्रोतों का परिचय दिया है, जहां पर एक उदाहरण ग्रिड में अन्य मोड (कंप्यूटर) से CPU स्त्रोतों का प्रयोग (उदाहरण के लिये) कर सकता है।

Oracle DBMS स्वयं में ही भंडारित कार्यविधियों तथा कार्यों को भंडारित तथा कार्यान्वित कर सकता है। PL/SQL (Oracle कार्पोरेशन का, SQL के लिये स्वामित्व वाला प्रक्रियात्मक विस्तार) अथवा वस्तु-उन्मुख भाषा जावा ऐसे कोड वस्तुओं को उत्पन्न कर सकते हैं तथा/अथवा उनको लिखने के लिये प्रोग्रामिंग ढ़ांचा प्रदान करते हैं।

स्टोरेज[संपादित करें]

Oracle RDBMS [[डाटा को टेबल-स्पेस के फार्म में तरीके से तथा डाटा फाइल के फार्म में भौतिक रूप में भंडारित डाटा को [[टेबल-स्पेस]] के फार्म में तरीके से तथा डाटा फाइल के फार्म में भौतिक रूप में भंडारित]] किया जाता है। टेबल स्पेसेस में, डाटा सेगमेन्ट, इन्डेक्स सेगमेन्ट आदि जैसे विभिन्न प्रकार के मेमोरी सेगमेन्ट होते हैं। सेगमेन्ट में बारी बारी से एक या अधिक सीमाऐं होती हैं। सीमाओं में सन्निहित डाटा ब्लाक्स के समूह निहित होते है। डाटा ब्लाक्स डाटा स्टोरेज की आधार इकाई का निर्माण करते हैं।

Oracle डाटाबेस प्रबन्धन, सिस्टम टेबल-स्पेस में भंडारित सूचना की सहायता से अपने कंप्यूटर डाटा स्टोरेज की जानकारी रखता है। सिस्टम टेबल-स्पेस में डाटा डिक्शनरी - तथा बहुधा (डिफाल्ट से) इन्डेक्सेस तथा क्लस्टर्स होते हैं। एक डाटा डिक्शनरी में टेबल्स के विशेष संग्रह होते हैं जिसमें डाटाबेस के सभी उपभोक्ता-वस्तुओं के संबंध में सूचना होती है। 8i संस्करण से, Oracle RDBMS, "स्थानीय रूप से प्रबंध किये" गये टेबल-स्पेसेस की सहायता करता है जो कि स्पेस प्रबंधन को सिस्टम टेबल-स्पेस के स्थान पर (जैसे कि डिफाल्ट "डिक्शनरी-प्रबंधित" टेबल-स्पेसेस के साथ होता है) अपने स्वयं के हेडर के बिटमेप में स्टोर कर सकता है।

डिस्क फाइलें[संपादित करें]

भौतिक स्तर पर डाटा फाइल्स में एक या अधिक डाटा ब्लॉक्स होते हैं, जहां पर कि ब्लॉक साइज डाटा फाइल्स में भिन्न भिन्न होता है।

डाटा फाइल्स कंप्यूटर सर्वर सिस्टम फाइल सिस्टम में पूर्व आबंटित स्थान को घेर सकती है, रॉ डिस्क का प्रत्यक्ष रूप से प्रयोग करेगी, अथवा ASM तार्किक घनत्व में ही रहेंगी.[4]

नियंत्रण फाइलें[संपादित करें]

निम्नलिखित मानक नियंत्रण फ़ाइलों का आकार संचालित करते हैं:

* मैक्सलौगफाइलें
* मैक्सलौगमेम्बर्स
* मैक्सलौगहिस्टरी
* मैक्सइंस्टेन्सिस
* नियंत्रण_फाइल_रिकोर्ड_कीप_टाइम

डाटाबेस स्कीमा[संपादित करें]

Oracle डाटाबेस कन्वेन्शन, वस्तु स्वामित्व (साधारणतः 'यूजरनेम' से संबद्ध) के परिभाषित समहो को स्कीमास नाम से परिभाषित करता है।

अधिकतर Oracle डाटाबेस संस्थापन परम्परागत रूप से SCOTT के नाम से डिफाल्ट स्कीमा के साथ आये हैं। संस्थापन की प्रक्रिया द्वारा नमूना टेबल्स को सेट करने के बाद उपभोक्ता scott यूजर नेम tiger पासवर्ड के साथ लॉग ऑन कर सकता है। SCOTT स्कीमा (Schema) का नाम मूल रूप से Oracle (उस समय की सॉफ्टवेयर डेबलपमेन्ट लेबोरेटरीज) के पहले के कर्मचारियों में से एक ब्रूस स्काट के नाम पर है, जिसके पास टाइगर नाम की एक बिल्ली थी।[5]

Oracle कार्पोरेशन ने SCOTT स्कीमा (schema) के प्रयोग को कम महत्त्वपूर्ण किया है; चूंकि हाल में जारी किये गये Oracle के संस्करणों के अधिकतर फीचर का इसमें प्रयोग किया गया है। Oracle कार्पोरेशन द्वारा प्रदाय किये गये अधिकतर recent के अनुसार  उदाहरण डिफाल्ट एच आर अथवा ओ ई स्कीमास के सन्दर्भ हैं।

अन्य डिफ़ॉल्ट स्कीमास[6] में शामिल हैं:

  • SYS (essential core database structures and utilities)
  • SYSTEM (additional core database structures and utilities, and privileged account)
  • OUTLN (utilized to store metadata for stored outlines for stable query-optimizer execution plans.[7]
  • BI, IX, HR, OE, PM, and SH (expanded sample schemas[8] containing more data and structures than the older SCOTT schema).

मेमोरी संरचना[संपादित करें]

सिस्टम ग्लोबल क्षेत्र[संपादित करें]

प्रत्येक Oracle उदाहरण, अपना डाटा तथा नियंत्रण-सूचना भंडारित करने के लिये सिस्टम ग्लोबल क्षेत्र अथवा SGA, - एक शेयर्ड मेमोरी क्षेत्र, - का प्रयोग करता है।[9]

प्रत्येक Oracle उदाहरण चालू होते समय अपने स्वयं को एक SGA आवंटित करता है तथा बन्द करते समय आवन्टन को समाप्त करता है। SGA का सूचना में निम्नलिखित घटक निहित होते हैं, जिसमें प्रत्येक का आकार निर्धारित होता है, इन्स्टान्स स्टार्ट पर स्थापित होता है।

  • डाटाबेस बफर कैशै: यह हाल ही में प्रयोग किये गये डाटा ब्लॉक्स को भंडारित करता है। इन ब्लॉक्स में अभी तक डिक्स में नहीं लिखा हुआ संशोधित डाटा (कभी कभी "डर्टी ब्लॉक्स" के नाम से जाना जाता है), गैर संशोषित ब्लॉक्स, अथवा संशोधन के बाद लिखे गये ब्लॉक्स (कभी कभी स्वच्छ ब्लॉक्स के नाम से जाना जाता है) निहित होते हैं। चूंकि बफर कैशै हाल ही में प्रयोग किये गये अलगोरिथम पर आधारित ब्लॉक्स रखता है, अत्याधिक क्रियाशील बफर्स I/O को कम करने तथा निष्पादन में सुधार के लिये मेमोरी में रहते हैं।
  • रीडू लॉग बफर: यह रीडू प्रविष्टि को भंडारित करता है - डाटा बेस में किये गये लॉग के परिवर्तन. उदाहरण रीडू लॉग पर रीडू लॉगबफर में, जितना जल्दी तथा जितना अच्छी तरह से संभव है, लिखते हैं। सिस्टम असफलता की स्थिति में रिकवरी उदाहरण में रीडू लॉग एड करते हैं।
  • शेयर्ड पूलः एस जी ए का यह क्षेत्र लाइब्रेरी कैशै में शेयर्ड SQL क्षेत्र तथा डाटा डिक्शनरी में आंतरिक सूचना जैसे शेयर्ड-मेमोरी ढ़ांचा स्टोर करता है। शेयर्ड पूल को आवंटित की गई मेमोरी की अपर्याप्त संख्या निष्पादन में कमी का कारण हो सकता है।

लाइब्रेरी कैशै[संपादित करें]

लाइब्रेरी कैशै[10] पद व्याख्या (Parce tree) को कैच करके तथा प्रत्येक विशिष्ट SQL विवरण के लिये कार्य योजना लागू करके शेयर्ड SQL भंडारित करता है। यदि बहुविधि अनुप्रयोग एक जैसा विवरण जारी करते हैं, तो प्रत्येक अनुप्रयोग शेयर्ड SQL क्षेत्र देख सकता है। यह पारसिंग (Parsing) तथा योजना कार्यान्वयन (Execution Planning) के लिये प्रयोग किये गये प्रक्रियात्मक समय तथा आवश्यक मेमोरी की मात्रा को कम करता है।

डाटा डिक्शनरी कैशै[संपादित करें]

डाटा डिक्शनरी में टेबल्स का सेट निहित होता है तथा डाटाबेस के ढ़ांचे के मैप को देखता है।

Oracle डाटाबेस यहाँ पर डाटाबेस के तार्किक तथा भौतिक ढ़ांचे के संबंध में सूचना स्टोर करता है। डाटा डिक्शनरी में निम्नलिखित जैसी सूचनाऐं निहित होती हैं:

  • प्रयोक्ता सूचना जैसे प्रयोक्ता विशेषाधिकार
  • डाटाबेस में टेबल्स के लिये परिभाषित सत्यनिष्ठा प्रतिरोध
  • डाटाबेस टेबल्स में सभी कॉलमों के नाम तथा डाटाबेस
  • स्कीमा वस्तुओं के लिये आवंटित तथा प्रयोग की गई स्पेस की सूचना

SQL विवरणों की पद व्याख्या के लिये Oracle उदाहरण बार-बार डाटा डिक्शनरी एक्सेस करता है। Oracle का परिचालन डाटा डिक्शनरी के रेडी एक्सेस पर निर्भर करता है; डाटा डिक्शनरी में निष्पादन की कमियाँ सभी Oracle प्रयोक्ताओं को प्रभावित करती हैं। इसके कारण डाटाबेस एडमिनिस्ट्रीटर्स को यह सुनिश्चित करना चाहिये कि डाटा डिक्शनरी कैशै[11] में इस डाटा को कैशै करने के लिये पर्याप्त क्षमता है। डाटा - डिक्शनरी कैशै के लिये पर्याप्त मेमोरी के बिना प्रयोक्ता अत्याधिक निष्पादन कमी को देखते हैं। स्थान पर डाटा डिक्शनरी कैशै होती है उस शेयर्ड पूल के लिये पर्याप्त मेमोरी आवंटित करने से ऐसी विशिष्ट निष्पादन समस्याओं का निवारण होता है।

प्रोग्राम ग्लोबल क्षेत्र[संपादित करें]

एक Oracle उदाहरण के प्रोग्राम ग्लोबल क्षेत्र[12][13] या PGA मेमोरी-क्षेत्र में Oracle की सर्वर-प्रक्रियाओं के लिए डाटा और नियंत्रण जानकारी शामिल हैं।

PGA का आकार और सामग्री, स्थापित किये गए Oracle-सर्वर विकल्पों पर निर्भर करता है। इस क्षेत्र में निम्नलिखित घटक शामिल हैं:

  • स्टैक-स्पेस: वह मेमोरी जो सत्र की चर वस्तुएँ, सारणी और इसी तरह की और चीज़ें रखती है।
  • सत्र-जानकारी: जब तक बहु-क्रम सर्वर का उपयोग कर, उदाहरण अपनी सत्र-जानकारी PGA में स्टोर करता है। एक बहु-क्रम सर्वर में, सत्र-जानकारी SGA में चली जाती है).
  • निजी SQL-क्षेत्र: PGA में एक क्षेत्र जो बाध्य-चर वस्तुओं और रनटाइम-बफर जैसी जानकारी रखता है।
  • छंटाई क्षेत्र: PGA में एक क्षेत्र जो सोर्ट्स, हेश-ज्वाइनस, आदि की जानकारी रखता है।

प्रक्रिया संरचनाएं[संपादित करें]

Oracle प्रक्रियाएं[संपादित करें]

Oracle RDBMS आमतौर पर, पृष्ठभूमि में एक साथ चल रही और डेटाबेस कार्यों में तेजी लाने एंव उनकी निगरानी करने के लिए बातचीत कर रही प्रक्रियाओं के एक समूह पर निर्भर करता है। विशिष्ट कार्य समूहों में निम्नलिखित व्यक्तिगत प्रक्रियाओं में से कुछ शामिल हो सकती हैं - (उनके संक्षिप्त नाम के साथ दिखाए गए हैं):[14]

  • आर्काइवर प्रक्रियाएं (ARCn)
  • चेक्पॉइन्ट प्रक्रिया (CKPT) *आवश्यक*
  • कोर्डिनेटर-ऑफ़-जॉब-क्यूज़ प्रक्रिया (CJQn): जॉब-क्यूज़ के लिए गत्यात्मक रूप से स्लेव प्रक्रियाओं को पैदा करता है
  • डाटाबेस राइटर प्रक्रियाएं (DBWn) *आवश्यक*
  • डिसपेचर प्रक्रियाएं (Dnnn): उपयोगकर्ताओं के हेतु मल्टीप्लेक्स सर्वर-प्रक्रियाएं
  • मेमोरी-प्रबंधक प्रक्रिया (MMAN): स्वचालित साझे मेमरी प्रबंधन जैसे आंतरिक डाटाबेस कार्यों के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं
  • लॉग-राइटर प्रक्रिया (LGWR) *आवश्यक*
  • लॉग-राईट नेटवर्क सर्वर (LNSn): डाटा गार्ड वातावरण में रीडो लॉग्स को संचारित करता है।
  • लोजिकल स्टेंडबाई कोरडिनेटर प्रक्रिया (LSP0): डाटा गार्ड लॉग अनुप्रयोग को नियंत्रित करती है।
  • मीडिया-रिकवरी प्रक्रिया (MRP): अलग रिकवरी-सर्वर प्रक्रिया
  • मेमरी-मोनिटर प्रक्रिया (MMON): स्वचालित समस्या-अभिज्ञान, स्व-समस्वरण और आँकड़े-एकत्रित करने के लिए प्रक्रिया[15]
  • मेमरी-मोनिटर लाईट प्रक्रिया (MMNL): स्वचालित कार्यभार संग्राहक (AWR) डाटा एकत्र कर संचित करती है।
  • mmon स्लेवज़ (Mnnnn-M0000, M0001, आदि): MMON प्रक्रिया के पृष्ठभूमि स्लेव.[16]
  • प्रोसेस-मोनिटर प्रक्रिया (PMON) *आवश्यक*
  • प्रोसेस-स्पानर (PSP0): Oracle प्रक्रियाओं को पैदा करता है।
  • कयू-मोनिटर प्रक्रियाएं (QMNn)
  • रिकवरर प्रक्रिया (RECO)
  • रिमोट फाइल-सर्वर प्रक्रिया (RFS)
  • शेयर्ड सर्वर प्रक्रियाएं (Snnn): ग्राहक-अनुरोधों की सेवा करती हैं।
  • सिस्टम मोनिटर प्रक्रिया (SMON) *आवश्यक*

उपयोगकर्ता प्रक्रियाएं, कनेक्शन और सत्र[संपादित करें]

Oracle डाटाबेस शब्दावली, यह वर्णन करने के लिए कि अंत उपयोगकर्ताओं कैसे डेटाबेस के साथ बातचीत करता है, विभिन्न कंप्यूटर-विज्ञान सन्दर्भों को अलग करती है:

  • उपयोगकर्ता प्रक्रियाएं अनुप्रयोग सॉफ्टवेयर का आवाहन शामिल करती हैं।[17]
  • एक कनेक्शन, एक उपयोगकर्ता प्रक्रिया को एक Oracle उदाहरण से जोड़ने के मार्ग को सन्दर्भित करता है।[18]
  • सत्र में एक Oracle उदाहरण के लिए विशिष्ट कनेक्शन शामिल होता है।[19] एक उदाहरण के भीतर प्रत्येक सत्र के पास एक सत्र पहचानकर्ता या "SID"[20] (सिस्टम-पहचानकर्ता SID से अलग) होता है।

कन्करेंसी और लोकिंग[संपादित करें]

Oracle डाटाबेस लॉक वाले डाटा संसाधनों के लिए एक साथ अभिगम नियंत्रण करता है (वैकल्पिक रूप से "एनकयूज़" के रूप में दस्तावेज किये गए[21] ). डाटाबेस, "लेचिज़" का उपयोग भी करते है -- सिस्टम ग्लोबल क्षेत्र में साझी डाटा संरचनाओं की रक्षा करने के लिए, कम-स्तर सीरियलाइज़ेष्ण तंत्र.[22]

विन्यास[संपादित करें]

डाटाबेस प्रशासक, एक पैरामीटर फाइल में मूल्यों के माध्यम से Oracle उदाहरण के कई ट्यूनेबल बदलाव का नियंत्रण करते हैं।[23] इस फाइल का अपने ASCII डिफ़ॉल्ट रूप ("pfile") में, सामान्य रूप से प्रारूप init<SID-name>.ora नाम होता है। डिफ़ॉल्ट दोहरी बराबर सर्वर परमाटर फाइल "(spfile") (गतिशील रूप से कुछ हद तक रिकंफीगरेबल).[24] प्रारूप spfile<SID-name>.ora को डिफाल्ट करती है। एक SQL-आधारित वातावरण के भीतर, विचार V$PARAMETER[25] और V$SPPARAMETER[26] पैरामीटर मूल्यों को पढ़ने के लिए ऐक्सेस देते हैं। 1

अंतर्राष्ट्रीयकरण[संपादित करें]

Oracle डाटाबेस सॉफ्टवेयर, 63 भाषा-संस्करणों (अमेरिकन, इंग्लिश तथा ब्रिटिश इंग्लिश जैसी क्षेत्रीय भिन्नताऐं मिलाकर) में आता है। संस्करणों के मध्य विभिन्नताओं में दिनों तथा महीनों के नाम, संक्षिप्त रूप A.M. और A.D. जैसे समय चिन्ह आदि होते हैं।[27]

Oracle कार्पोरेशन ने Oracle डाटाबेस एरर-मेसेजेस को अरबी, कैटालन, चीनी, चेक, डेनिश, डच, इंग्लिश, फिनिश, फ्रेन्च, जर्मन, ग्रीक, हेब्रू, हंगेरियन, इटालियन, जापानीज, कोरियन, नार्वेयन, पोलिश, पुर्तगाली, रोमानियन, रशियन, स्लोवाक, स्पेनिश, स्वीडिश, थाई तथा टर्किश भाषाओं में अनुवाद किया है।[28]

Oracle कार्पोरेशन अन्तर्राष्ट्रीयकृत डाटाबेस अनुप्रयोग का निर्माण करने के लिये औजारों तथा मेकेनिज्म के साथ डाटाबेस डेवलपर्स प्रदान करता है जिसे आंतरिक रूप से "भूमंडलीकरण" के रूप में जाना जाता है।[29]

इतिहास[संपादित करें]

कॉर्पोरेट/तकनीकी समयरेखा[संपादित करें]

  • 1977: लैरी एलिसन और उनके दोस्तों ने सॉफ्टवेयर विकास प्रयोगशालाओं की स्थापना की.
  • 1979: SDL ने अपनी कंपनी का नाम बदल कर "रिलेशनल सॉफ्टवेयर, इंक." रख दिया. (RSI) और अपने उत्पाद Oracle V2 को एक शीघ्र व्यावसायिक तौर पर उपलब्ध रिलेशनल डाटाबेस सिस्टम के रूप में पेश किया। संस्करण लेनदेन का समर्थन नहीं करता था, लेकिन प्रश्नों और जोड़ों की बुनियादी SQL कार्यक्षमता लागू करता था। (RSI ने कभी संस्करण 1 जारी नहीं किया- इसकी बजाय पहले संस्करण को विपणन तिकड़म के रूप में संस्करण 2 कह कर बुलाया).[30]
  • 1982: स्वयं को इसके सर्वोत्कृष्ट उत्पाद के साथ और अधिक निकटता से पंक्तिबद्ध करने के लिए, RSI ने अपनी बारी में इसका नाम बदल दिया और यह Oracle कार्पोरेशन[31] के नाम से जाना जाने लगा.
  • 1983: कंपनी ने Oracle संस्करण 3 जारी किया, जो उसने C प्रोग्रामिंग भाषा के उपयोग से पुनः लिखा था और जो लेनदेन के लिए COMMIT और ROLLBACK कार्यक्षमता का समर्थन करता था। संस्करण 3, Unix वातावरण शामिल करने के लिए, मौजूदा डिजिटल VAX/VMS सिस्टम से प्लेटफार्म समर्थन प्रसारित करता था।[31]
  • 1984: Oracle कार्पोरेशन ने Oracle संस्करण 4 जारी किया, जो पढ़ने की अनुकूलता का समर्थन करता था।
  • 1985: Oracle कार्पोरेशन ने Oracle संस्करण 5 जारी किया, जो ग्राहक-सर्वर मॉडल का समर्थन करता था- 1980 के मध्य में नेटवर्क के अधिक व्यापक रूप में उपलब्ध होने का एक संकेत.
  • 1986: Oracle संस्करण 5.1 ने वितरित प्रश्नों का समर्थन करना शुरू किया।
  • 1988: Oracle RDBMS संस्करण 6 Oracle प्रकार v3 (संस्करण 6 डाटाबेस उचित में PL/SQL को संचित नहीं कर सकता था), रो-लेवल लोकिंग और हॉट बैकअप के भीतर सन्निहित PL/SQL के लिए समर्थन के साथ बाहर आया।[32]
  • 1989: Oracle कार्पोरेशन ने अनुप्रयोग उत्पाद बाजार में प्रवेश किया और Oracle संबंधपरक डाटाबेस पर आधारित अपना ईआरपी उत्पाद (जो बाद में Oracle ई-बिसनेस सूट का हिस्सा बन गया) विकसित किया।
  • 1990: Oracle अनुप्रयोग रिलीज़ 8 का रिलीज[31]
  • 1992: Oracle संस्करण 7 रेफेरेंन्शिअल सत्यनिष्ठा, संग्रहीत प्रक्रियाओं और ट्रिगर के लिए समर्थन के साथ प्रकट हुए.
  • 1997: Oracle कार्पोरेशन ने संस्करण 8 जारी किया, जो वस्तु- उन्मुख विकास और मल्टीमीडिया अनुप्रयोगों का समर्थन करता था।
  • 1999: Oracle8i का रिलीज़ इंटरनेट के साथ बेहतर इंटर-ऑपरेटिंग डाटाबेस प्रदान करने के उद्देश्य से किया गया (नाम में i "इंटरनेट" को सन्दर्भित करता है) Oracle 8i डाटाबेस ने एक निवासी जावा आभासी मशीन (Oracle JVM) निगमित की.
  • 2000: Oracle ई-बिजनेस सूट 11i, एकीकृत एंटरप्राइज़ अनुप्रयोग सॉफ्टवेयर का पथ प्रदर्शक बना[31]
  • 2001: Oracle9i, XML दस्तावेज़ों को पढ़ने और लिखने की क्षमता सहित, 400 नई सुविधाओं के साथ जारी किया गया। 9i Oracle RAC, या "असली अनुप्रयोग क्लस्टर" के लिए भी एक विकल्प प्रदान करता था, जो Oracle पैरलल सर्वर (OPS) विकल्प की एक प्रतिस्थापना के रूप में, एक कंप्यूटर-क्लस्टर डाटाबेस था।
  • 2003: Oracle कार्पोरेशन ने Oracle डाटाबेस 10g जारी किया। g, "ग्रिड" को सन्दर्भित करता है; 10g को "ग्रिड-कंप्यूटिंग रेडी के रूप में पेश करने के विपणन जोर पर बल देते हुए.)
  • 2005: Oracle डाटाबेस 10.2.0.1- Oracle डाटाबेस 10g रिलीज़ 2 (10gR2) के रूप में भी जाना जाने वाला- दिखाई दिया.
  • 2006: Oracle कार्पोरेशन ने अनब्रेकेबल Linux की घोषणा की[31]
  • 2007: Oracle डाटाबेस 10g के रिलीज़ 2 ने एक नया विश्व रिकॉर्ड स्थापित किया, TPC-H 3000 GB बेंचमार्क परिणाम[33]
  • 2007: Oracle कार्पोरेशन ने Linux और माइक्रोसोफ्ट Windows के लिए Oracle डाटाबेस 11g जारी किया।
  • 2008: Oracle कार्पोरेशन ने BEA सिस्टम हासिल किया।
  • 2010: Oracle कार्पोरेशन ने सन माइक्रोसिस्टम्स हासिल किया।

संस्करण अंकन[संपादित करें]

Oracle उत्पादों ने ऐतिहासिक दौर से अपने जारी-अंकन और नामकरण रिवाजों का पालन किया है। Oracle RDBMS 10g के जारी होने के साथ, Oracle कार्पोरेशन ने "10g" लेबल के प्रयोग से अपने प्रमुख उत्पादों के सभी मौजूदा संस्करणों का मानकीकरण करना शुरू कर दिया, हालांकि कुछ सूत्रों ने Oracle अनुप्रोयोग रिलीज़ 11i को Oracle 11i के रूप में सन्दर्भित करना जारी रखा. प्रमुख डाटाबेस संबंधित उत्पादों और उनके संस्करणों में से कुछ में शामिल हैं:

संस्करण 5 के बाद से, Oracle के RDBMS रिलीज़ अंकन ने निम्नलिखित कोड का उपयोग किया है:

  • Oracle5
  • Oracle6
  • Oracle7: 7.0.16-7.3.4
  • Oracle8 डाटाबेस: 8.0.3-8.0.6
  • Oracle8i डाटाबेस रिलीज़ 1: 8.1.5.0-8.1.5.1
  • Oracle8i डाटाबेस रिलीज़ 2: 8.1.6.0-8.1.6.3
  • Oracle8i डाटाबेस रिलीज़ 3: 8.1.7.0-8.1.7.4
  • Oracle9i डाटाबेस रिलीज़ 1: 9.0.1.0—9.0.1.5 (पेचसेट as of December 2003 के अनुसार )
  • Oracle9i डाटाबेस रिलीज़ 2: 9.2.0.1—9.2.0.8 (पेचसेट as of April 2007 के अनुसार )
  • Oracle डाटाबेस 10g रिलीज़ 1: 10.1.0.2—10.1.0.5 (पेचसेट as of February 2006 के अनुसार )
  • Oracle डाटाबेस 10g रिलीज़ 2: 10.2.0.1—10.2.0.4 (पेचसेट as of April 2008 के अनुसार )
  • Oracle डाटाबेस 11g रिलीज़ 1: 11.1.0.6—11.1.0.7 (पेचसेट as of September 2008 के अनुसार )
  • Oracle डाटाबेस 11g रिलीज़ 2: 11.2.0.1 (2009/09/01 को जारी)

प्रत्येक रिलीज़ के भीतर, संस्करण-अंकन रचनाक्रम इस पैटर्न का अनुसरण करता है: major.maintenance.application-server.component-specific.platform-specific.

उदाहरण के लिए, "64-बिट सोलरिस के लिए 10.2.0.1" मतलब: Oracle का दसवा मुख्य संस्करण, रखरखाव स्तर 2, Oracle अनुप्रयोग सर्वर (OracleAS)0, सोलरिस 64-बिट के लिए स्तर 1.

Oracle प्रशासक गाइड Oracle रिलीज़ संख्या पर अधिक जानकारी प्रदान करता है। Oracle कार्पोरेशन प्रमुख रिलीज़, ऑपरेटिंग-सिस्टम और हार्डवेअर-संरचना द्वारा नवीनतम पेच-सेट रिलीज़ दर्शाता, एक टेबल[34] प्रदान करता है।

क्लेम किये पहलों की सूची[संपादित करें]

Oracle कार्पोरेशन निम्नलिखित उपलब्ध करने का दावा करती है:

  • पहला व्यावसायिक तौर पर उपलब्ध SQL-आधारित डाटाबेस (1979)[35]
  • सममित बहु प्रक्रमण (SMP) (1983) का समर्थन करने वाला पहला डाटाबेस
  • पहला वितरित डाटाबेस (1986)
  • ANSI SQL मानक का अनुपालन करने के लिए परीक्षित पहला डाटाबेस उत्पाद (1993)[35]
  • पहला 64 बिट डाटाबेस (1995)
  • निवासी JRE सम्मिलित करने वाला पहला डाटाबेस (1998)
  • Linux पर उपलब्ध होने वाला पहला स्वामित्व RDBMS (1998)[36]
  • XML का समर्थन करने वाला पहला डाटाबेस (1999)

संस्करण[संपादित करें]

Oracle डाटाबेस प्रबंधन सॉफ्टवेयर के विभिन्न संस्करणों के ऊपर, Oracle कार्पोरेशन, स्पष्टतया विपणन और लाइसेंस-मार्गन कारणों के लिए अपने उत्पादों को विभिन्न "संस्करणों" में उप विभाजित करते हैं। घटते माप के अनुमानित क्रम में, हमें पता चला:

  • एंटरप्राइज़ एडिशन[37] (EE) 'स्टैण्डर्ड एडिशन' से अधिक सुविधाएँ शामिल करता है, विशेष रूप से प्रदर्शन और सुरक्षा के क्षेत्रों में. Oracle कार्पोरेशन, इस उत्पाद को उपयोगकर्ताओं या प्रोसेसरों के आधार पर लाइसेंस करता है, विशिष्ट रूप से 4 या अधिक CPUs चला रहे सर्वरों के लिए. EE में कोई मेमरी सीमा नहीं होती और Oracle RAC सॉफ़्टवेयर का उपयोग करके क्लस्टरिंग प्रयोग कर सकते हैं।
  • स्टैण्डर्ड एडिशन[38] में डाटाबेस की कार्यक्षमता शामिल हैं। Oracle कार्पोरेशन इस उत्पाद को उपयोगकर्ताओं या प्रोसेसरों के आधार पर लाइसेंस करता है, विशिष्ट रूप से एक से चार CPUs चला रहे सर्वरों के लिए. यदि CPUs की संख्या 4 CPUs से अधिक है, तो उपयोगकर्ता को एक एंटरप्राइज़ लाइसेंस में परिवर्तित होना होगा. SE में कोई मेमरी सीमा नहीं होती और यह बिना किसी अतिरिक्त कीमत के Oracle RAC के साथ क्लस्टरिंग का प्रयोग कर सकता है।
  • Oracle 10g के साथ शुरू किये गए, स्टैण्डर्ड एडिशन एक,[39] में कुछ अतिरिक्त सुविधा-प्रतिबंध हैं। Oracle कार्पोरेशन इसे एक या दो CPUs वाले सिस्टम पर उपयोग करने के लिए विपणन करता है। इसमें कोई मेमरी सीमाएँ नहीं होती.
  • एक्सप्रेस एडिशन[40] ('Oracle डाटाबेस XE'), 2005 में शुरू किया, Windows और Linux प्लेटफार्मों पर वितरित करने के लिए Oracle 10g मुफ्त प्रदान करता है। इसमें सिर्फ 150 MB का पदचिन्ह है और यह एक CPU के प्रयोग तक सीमित है, जिसमें अधिकतम 4 GB उपयोगकर्ता डाटा का ही इस्तेमाल हो सकता है। यद्यपि यह एक सर्वर पर किसी भी मात्र की मेमरी के साथ स्थापित कर सकते हैं, यह अधिकतम 1 GB का उपयोग करता है।[41] इस संस्करण के लिए समर्थन, विशेष रूप से ओंन-लाइन मंचों के माध्यम से आता है नाकि Oracle समर्थन के माध्यम से.
  • Oracle डाटाबेस लाइट,[42], मोबाइल उपकरणों पर चलने के लिए अभिप्रेत. मोबाइल उपकरण पर स्थित डाटाबेस, एक सर्वर-आधारित अधिष्ठापन के साथ संकालन कर सकता है।

होस्ट प्लेटफार्म[संपादित करें]

2001 में Oracle9i जारी करने से पूर्व, Oracle कार्पोरेशन ने अपना डाटाबेस उत्पाद एक विस्तृत विविधता के प्लेटफार्मों को स्थलांतरित किया। हाल ही में, Oracle कार्पोरेशन, ऑपरेटिंग-सिस्टम प्लेटफार्मों की एक छोटी श्रेणी पर समेकित हुआ है।

अक्टूबर 2006 के अनुसार , Oracle कार्पोरेशन Oracle डाटाबेस 10g के लिए निम्नलिखित ऑपरेटिंग सिस्टम और हार्डवेयर प्लेटफॉर्म का समर्थन करता था[कृपया उद्धरण जोड़ें]:

संबंधित सॉफ्टवेयर[संपादित करें]

डाटाबेस विकल्प[संपादित करें]

Oracle कार्पोरेशन, Oracle डाटाबेस की मुख्य कार्यक्षमता के लिए कुछ एक्सटेंशन को "डाटाबेस विकल्प" के रूप में सन्दर्भित करता है।[43] 2008 के अनुसार  ऐसे विकल्पों में शामिल हैं:


ज्यादातर मामलों में, इन विकल्पों का उपयोग करने में अतिरिक्त लाइसेंसिंग लागत लगती है।[46]

सूटस[संपादित करें]

इसके RDBMS के अलावा, Oracle कार्पोरेशन ने Oracle डाटाबेस के कार्यान्वयन से संबंधित उपकरणों और अनुप्रयोगों के कई संबंधी सूटस जारी किए हैं। उदाहरण के लिए:

डाटाबेस "फीचरज़"[संपादित करें]

स्पष्ट रूप से परिभाषित डाटाबेस विकल्पों के अलावा, Oracle डाटाबेस, कई अर्द्ध-स्वायत्त सॉफ्टवेयर उप-प्रणालियों को शामिल कर सकता है, जिसे Oracle कार्पोरेशन कभी कभी "फीचरज़" के नाम से संबोधित करता है, जो तात्पर्य में इसके सामान्य उपयोग से थोड़ा अलग होता है। उदाहरण के लिए, Oracle डाटा गार्ड आधिकारिक तौर पर, एक "फीचर" के रूप में मायने रखता है, लेकिन SQL*Plus, के भीतर कमांड-स्टेक, हालांकि एक प्रयोज्य सुविधा, Oracle सूची में "फीचरज़" की सूची में प्रकट नहीं होती है।[मूल शोध?] ऐसे "फीचरज़" में (उदाहरण के लिए) निम्नलिखित शामिल हो सकते हैं:

  • एक्टिव सेशन हिस्टरी (ASH), बहुत हाल ही की डाटाबेस गतिविधि की तत्काल निगरानी के लिए डाटा का संग्रह.[49]
  • ऑटोमेटिक वर्कलोड रिपोज़िटरी (AWR), Oracle संस्करण 10 से Oracle डाटाबेस प्रतिष्ठानों को निगरानी के लिए सेवाएं प्रदान कर रहा है। Oracle संस्करण 10 के जारी होने से पहले, स्टेटस्पेक सुविधा[50] समान कार्यक्षमता प्रदान करता था।
  • क्लस्टरवेअर
  • डाटा एकत्रीकरण और एकीकरण
  • उच्च उपलब्धता के लिए डाटा गार्ड
  • गैर-Oracle सिस्टम को जोड़ने के लिए सामान्य संयोजकता
  • डाटा पम्प उपयोगिताएं, जो डाटाबेस के बीच डाटा और मेटाडाटा के आयात और निर्यात में सहायता प्रदान करता है[51]
  • डाटाबेस रिसोर्स मेनेजर (DRM), जो कंप्यूटिंग संसाधनों के उपयोग को नियंत्रित करता है।[52]
  • फाइन-ग्रेन्ड औडिटिंग (FGA) (Oracle एंटरप्राइज़ एडिशन में[53]) मानक सुरक्षा-परीक्षण फीचरज़ को परिपूरक करता है[54]
  • चयनात्मक डाटा वसूली और पुनर्निर्माण के लिए फ़्लैश बैक[55]
  • iSQL*Plus, Oracle डाटाबेस-प्रहस्तन (SQL*Plus की तुलना करें) के लिए एक वेब-ब्राउज़र-आधारित ग्राफिकल यूज़र इंटरफ़ेस (GUI)
  • Oracle डाटा ऐक्सेस कोम्पोनेंट (ODAC), उपकरण, जो निम्नलिखित से मिलकर बनते हैं:[56]
    • .NET (ODP.NET) के लिए Oracle डाटा प्रबन्धक[57]
    • विजुअल स्टूडियो के लिए Oracle डेवलपर उपकरण (ODT)
    • ASP.NET के लिए Oracle प्रबन्धक
    • .NET के लिए Oracle डाटाबेस एक्सटेंशंस
    • OLE DB के लिए Oracle प्रबन्धक
    • OLE के लिए Oracle वस्तुएं
    • माइक्रोसोफ्ट ट्रानज़ेक्शन सर्वर के लिये Oracle सेवाएँ
  • Oracle-प्रबंधित फ़ाइलें (OMF) - एक सुविधा जो ऑपरेटिंग-सिस्टम स्तर पर डाटाफाइलों के स्वचालित नामकरण, निर्माण और विलोपन की अनुमति देता है।
  • रिकवरी मैनेजर (आरमेंन) डाटाबेस बैकअप, प्रत्यावर्तन और वसूली के लिए
  • SQL*Plus, एक प्रोग्राम जो उपयोगकर्ताओं को एक कमांड लाइन पर, SQL और PL/SQL कमांड के माध्यम से Oracle डाटाबेस के साथ बातचीत करने की अनुमति देता है। iSQL*Plus की तुलना करें.
  • आभासी निजी डाटाबेस[58] (VPD), फाइन-ग्रेन्ड अभिगम नियंत्रण का एक कार्यान्वयन.[59]


स्टैंडअलोन टूल्स[संपादित करें]

Oracle Jडेवलपर, Oracle फार्म, अथवा Oracle प्रतिवेतनों जैसे औजारों का प्रयोग करते हुए, प्रयोक्ता जावा तथा PL/SQL में अनुप्रयोगों का विकास कर सकते हैं। Oracle कार्पोरेशन ने नान प्रोग्रामर्स को सामान्य डाटा-वाहित अनुप्रयोग का निर्माण करने के लिये 'विजार्ड'-वाहित पर्यावरण उन्मुख ड्राइव शुरू किया है।[तथ्य वांछित]

Oracle SQL डेवलपर, डेवलपर्स को डाटाबेस विकास के लिये एक फ्री ग्राफिकल टूल डाटाबेस वस्तुओं को ब्राउज करने, SQL विवरण तथा SQL स्क्रिप्ट रन करने तथा PL/ SQL विवरणों को एडिट तथा डीबग करने की अनुमति देता है। यह मानक तथा कस्टमाइज्ड रिपोटिंग को सम्मिलित करता है।

Oracle कार्पोरेशन द्वारा विपणन अन्य डाटाबेस[संपादित करें]

डाटाबेस क्षेत्र में अन्य प्रौद्योगिकी हासिल करके, Oracle कार्पोरेशन ने निम्नलिखित ले लिया है:

  • टाइम्ज़ टेन, एक मेमरी-वासी डाटाबेस जो एक केंद्रीकृत Oracle डाटाबेस सर्वर के साथ लेन-देन कैशै और डाटा संकालन कर सकता हैं। यह घटनाओं और लेनदेन के उच्च-मात्रा और कम-विलंबता डाटा के प्रबंधन के उद्देश्य के लिए एक वास्तविक-समय अवसंरचना सॉफ्टवेयर उत्पाद के रूप में काम करता है।
  • बर्केलेDB, एक साधारण, उच्च-कार्य-संपादन, सन्निहित डाटाबेस
  • Oracle Rdb, ओपनVMS ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए एक बपौती संबंधपरक डाटाबेस
  • माईSQL इसके तत्काल पिछले मालिक, सन माइक्रोसिस्टम्स के भाग के रूप में खरीदा एक संबंधपरक डाटाबेस

प्रयोग[संपादित करें]

Oracle RDBMS को Linux सिस्टम पर इन्स्टॉल करने में होने वाली कठिनाई के फलस्वरुप नौसिखिए प्रयोक्ताओं के मध्य इसके कठिन होने की प्रतिष्ठा थी।[कृपया उद्धरण जोड़ें] एक डाटाबेस सर्वर को इन्सटॉल करने में आवश्यक तकनीकी विशेषज्ञता के स्तर के परे इन्स्टालेशन चुनौतियों को कम करने के प्रयास में Oracle कार्पोरेशन के पास कुछ लोकप्रिय Linux वितरणों हेतु पैकेज्डrecent के अनुसार  संस्करण हैं।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

आधिकारिक सहायता[संपादित करें]

ऐसे प्रयोक्ता, जिनके पास Oracle समर्थन कॉन्ट्रेक्ट हैं, वे Oracle की मेटालिंक वेबसाइट का प्रयोग कर सकते हैं। मेटालिंक में Oracle कार्पोरेशन उत्पादों के प्रयोक्ताओं के लिए रिपोर्टेड समस्याऐं, निदान संबंधी स्क्रिप्ट एवं समाधान उपलब्ध हैं। इसमें सपोर्ट टूल्स, पैचेस एवं अपग्रेड के प्रावधान भी हैं।

रिमोट डायग्नोस्टिक एजेंट या RDA[60] एक स्क्रिप्ट पर कार्य करते हुये एक कमांड लाइन डायग्नोस्टिक टूल के रूप में संचालन कर सकता है। कैप्चर्ड डाटा, डायग्नोस्टिक एवं समस्या समाधान (ट्रबल शूटिंग) हेतु लक्षित Oracle डाटाबेस वातावरण का सर्वेक्षण उपलब्ध कराता है। RDA के अंदर, HCVE (हेल्थ चेक वेलिडेशन इंजन)[61] ऐसे होस्ट सिस्टम वातावरण मुद्दों का अभिप्रमाणन एवं पृथक्करण कर सकता है जो कि Oracle सॉफ्टवेयर के निष्पादन पर प्रभाव डाल सकते हैं।

डाटाबेस-संबंधित निर्देश[संपादित करें]

Oracle कार्पोरेशन, अपने डाटाबेस उत्पादों के उपयोग को बढ़ाने के लिए कुछ प्रथाओं और परंपराओं का समर्थन भी करता है। इनमें शामिल हैं:

Oracle प्रमाणन प्रोग्राम[संपादित करें]

Oracle प्रमाणन प्रोग्राम, एक पेशेवर प्रमाणन प्रोग्राम, Oracle डाटाबेस के प्रशासन को अपने मुख्य प्रमाणीकरण पथ में से एक के रूप में शामिल है। इसमें तीन स्तर शामिल हैं:

  1. Oracle सर्टिफिकेट एसोसिएट (OCA)
  2. Oracle सर्टिफिकेट प्रोफेशनल (OCP)
  3. Oracle सर्टिफिकेट मास्टर (OCM)

उपयोगकर्ता समूह[संपादित करें]

कई अधिकारी (Oracle प्रायोजित) और अनधिकृत Oracle उपयोगकर्ताओं समूह, Oracle डाटाबेस के उपयोगकर्ताओं और डेवलपर्स से बड़े हैं। इनमें शामिल हैं:

बाजार स्थिति[संपादित करें]

प्रतियोगिता[संपादित करें]

रिलेशनल डाटाबेसों हेतु बाजार में Oracle डाटाबेस आई बी एम (IBM) के DB2 UDB एवं माइक्रोसोफ्ट SQL सर्वर के साथ प्रतिस्पर्धा करता है। UNIX और Linux प्लेटफॉर्म पर मिड-रेंज डाटाबेस बाजार हेतु Oracle एवं IBM. के मध्य तीखी टक्कर है जबकि माइक्रोसॉफ्ट विंडोज़ प्लेटफॉर्म पर मिड-रेंज डाटाबेस बाजार में माइक्रोसॉफ्ट का वर्चस्व है। हालांकि, चूँकि IBM और Oracle के कई ग्राहक समान हैं अतः Oracle एवं IBM कई मिडिलवेयर एवं अनुप्रयोग श्रेणियों में एक दूसरे के उत्पादों का समर्थन करने के इच्छुक हैं। (उदाहरण के लिये : Websphere, Peoplesoft एवं Siebel Systems CRM) एवं IBM की हार्डवेयर डिवीजन परफॉर्मेंस - ऑप्टीमाइजिंग सर्वर प्रौद्योगिकियों पर Oracle के साथ नजदीकी रूप से कार्यरत है[कृपया उद्धरण जोड़ें](उदाहरण के लिये Z Series पर Linux) दोनों कंपनियों के मध्य एक रिश्ता है जिसे[मूल शोध?] "कूपीटीशन" शब्द द्वारा सबसे बेहतर तरीके से परिभाषित किया जा सकता है। अन्य वाणिज्यिक प्रतिस्पर्धियों में टेराडाटा (Teradata) (डाटा वेअर-हाउसिंग एवं बिज़नेस इंटेलीजेन्स में), सॉफ्टवेयर AG के ADABAS, सिबेस एवं IBM का इन्फोर्मिक्स आदि शामिल हैं।

उत्तरोत्तर रूप से बढ़ते हुये, Oracle डाटाबेस उत्पाद ओपनसोर्स रिलेशनल डाटाबेस सिस्टम विशेषकर पोस्टग्री SQL, फायरबर्ड, एवं माईSQL के विरुद्ध प्रतिस्पर्धा करते हैं। वर्ष 2010 में Oracle ने ओपनसोर्स बाजार में बेहतर प्रतिस्पर्धा हेतु इनोDB कोडबेस टू माईSQL के आपूर्तिकर्ता इनोबेस का एवं माईSQL के स्वामी सन माईकरोसिस्टम्स का अधिग्रहण किया। ओपनसोर्स मॉडल के आधार पर विकसित डाटाबेस उत्पादों की Oracle सिस्टम्स की तुलना में लागत सामान्यतः कम होती है।

वर्ष 2007, में SAP AG के साथ प्रतिस्पर्धा में Oracle कार्पोरेशन ने मुकद्मा दायर किया।[62]

मूल्यन[संपादित करें]

Oracle कार्पोरेशन समस्त Oracle उत्पादों हेतु समयगत लाइसेंसिंग प्रक्रिया प्रस्तावित करता है। यह शाश्वत लाइसेंस मूल्य के एक सुनिश्चित प्रतिशत पर समयगत लाइसेंस हेतु मूल्य सूची को आधार बनाता है।[63]

एंटरप्राइज़ एडिशन
As of March 2006 के अनुसार , डाटाबेस, जो Oracle डाटाबेस संस्करणों के मध्य अधिकतर प्रति मशीन प्रोसेसर लागत है।
स्टैण्डर्ड एडिशन
सस्ता: यह चार से अधिक प्रोसेसरों को चला सकता है लेकिन एंटरप्राइज़ एडिशन की तुलना में इसमें कम सुविधायें हैं - इसमें उचित समानांतरीकरण (Proper parallelization) की कमी है,[64] आदि; लेकिन मध्यम आकार के अनुप्रयोगों को चलाने हेतु यह पर्याप्त रूप से उपयुक्त है।
स्टैण्डर्ड एक
और अधिक सस्ता, परंतु दो CPU तक ही सीमित. स्टैण्डर्ड एडिशन एक प्रति सीट आधार पर कम से कम पाँच प्रयोक्ता हेतु विक्रय किया जाता है। Oracle कार्पोरेशन, सपोर्ट एवं अपग्रेड हेतु 22% अतिरिक्त लागत के साथ लाइसेंसों को विक्रय करता है (मेटालिंक - Oracle कार्पोरेशन की सपोर्ट वेबसाइट तक पहुँच) जिसमें ग्राहक को प्रतिवर्ष नवीनीकरण करना होता है।
Oracle एक्सप्रेस एडिशन (Oracle XE)
Oracle डाटाबेस उत्पाद परिवार में नया सदस्य (2005 में बीटा संस्करण जारी, फरवरी 2006 में उत्पादन संस्करण जारी) Oracle RDBMS के मुक्त संस्करण को प्रस्तावित करता है लेकिन 4 GB प्रयोक्ता डाटा एवं 1 GB RAM (SGA+PGA) तक सीमित. XE एक सी पी यू से अधिक का प्रयोग नहीं करेगा एवं आंतरिक JVM का अभाव है। XE केवल विंडोज़ एवं LINUX पर चलता है, AIX, Salaris, HP-UX तथा अन्य संस्करणों उपलब्ध अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम पर नहीं.

चूँकि Oracle चलाने वाले कंप्यूटरों में आठ या उससे अधिक प्रोसेसर होते हैं अतः सॉफ्टवेयर की कीमत सैकड़ों से हजारों डॉलर बढ़ सकती है। स्वामित्व की कुल लागत प्रायः इससे अधिक हो सकती है क्योंकि बड़े ऑरेकल इन्स्टालेशन में भलीभांति सैटअप हेतु सामान्यतः अनुभवी एवं प्रशिक्षित डाटाबेस एड्मिनिस्ट्रेटर्स की आवश्यकता होती है। उत्पाद के विस्तृत इन्स्टाल आधार एवं उपलब्ध प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों के कारण Oracle विशेषज्ञ अन्य विदेशज डाटाबेस हेतु उपलब्ध विशेषज्ञों की तुलना में कुछ क्षेत्रों में प्रचुर स्रोत बन गये हैं। Oracle डाटाबेस एड्मिनिस्ट्रेटर्स हेतु विशेष प्रशिक्षण उपलब्ध कराता है।

Linux पर, Oracle के प्रमाणित विन्यास में ज्यादातर वाणिज्यिक Linux वितरण ही शामिल हैं (रेड हॉट एंटरप्राइज़ Linux 3 and 4, SuSE SLES8 एंव 9, Asianux) जिनकी कीमत प्रतिवर्ष कुछ सौ से लेकर कुछ हजार डॉलर (USD) तक हो सकती है (प्रोसेसर संरचना एवं क्रय किये गये सपोर्ट पैकेज पर निर्भर)

Oracle डाटाबेस सिस्टम मुक्त उपलब्ध लाइनैक्स वितरणों जैसे रेड हॉट - आधारित सेंटूस,[65] या डेबियन-आधारित सिस्टम आदि पर भी इंस्टाल होकर चल सकता है।[66]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "IDC: Oracle Maintains Lead in Database Market". Pcworld.com. 2008-06-27. http://www.pcworld.com/businesscenter/article/147684/idc_oracle_maintains_lead_in_database_market.html. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  2. "Welcome to Larryland". Guardian. http://www.guardian.co.uk/g2/story/0,3604,215072,00.html. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  3. Bhakthavatsalam, Namrata (August 2008). "Glossary". Oracle Database Client Installation Guide 11g Release 1 (11.1) for AIX Based Systems Part Number B32077-03. Oracle. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/install.111/b32077/glossary.htm?type=popup#BABEBJAG. अभिगमन तिथि: 2008-11-17. "The SID automatically defaults to the database name portion of the global database name (sales in the example sales.us.example.com) until you reach eight characters or enter a period. You can accept or change the default value." 
  4. Watkins, Bob (30 जनवरी 2007). "Look inside ASM disk groups with Oracle 10gR2's ASMCMD". techrepublic.com. ZDNet. Archived from the original on 2012-07-07. http://archive.is/crIO. अभिगमन तिथि: 2009-07-30. "In 10g, Oracle introduced a new kind of storage for its database product. Automatic Storage Management (ASM) is a logical volume manager that takes physical disk partitions and manages their contents [...] Until ASM, there were only two choices: file system storage and raw disk storage." 
  5. Oracle FAQ
  6. "Known schemas in Oracle". Adp-gmbh.ch. http://www.adp-gmbh.ch/ora/misc/known_schemas.html. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  7. "Optimizer plan stability definition". Adp-gmbh.ch. http://www.adp-gmbh.ch/ora/tuning/cbo/plan_stability.html. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  8. "Oracle's sample schemas". Adp-gmbh.ch. http://www.adp-gmbh.ch/ora/misc/sample_schemas.html. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  9. "Oracle Architecture, System Global Area". World-class-programme.com. http://www.world-class-programme.com/Oracle-Architecture-2.asp. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  10. "Oracle architecture, the library cache section". http://www.world-class-programme.com/Oracle-Architecture-2.asp. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  11. "Oracle Architecture, data dictionary cache". World-class-programme.com. http://www.world-class-programme.com/Oracle-Architecture-2.asp. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  12. "Oracle architecture, Program Global Area section". World-class-programme.com. http://www.world-class-programme.com/Oracle-Architecture-2.asp. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  13. PGA परिभाषा, Oracle डाटाबेस मास्टर शब्दावली
  14. "Oracle Process architecture concepts". Download.oracle.com. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28318/process.htm#i16977. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  15. Safaribooksonline.com Niemiec, Richard (25 जून 2007) "1.30. New Background Processes in 10g" Oracle Database 10g Performance Tuning: Tips & Techniques Oracle Press प॰ 967 आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-0722-6305-3 http://my.safaribooksonline.com/9780072263053/new_background_processes_in_10. अभिगमन तिथि: 2009-08-12 "MMON Memory Monitor process is associated with the Automatic Workload Repository new features used for automatic problem detection and self-tuning. MMON writes out the required statistics for AWR on a scheduled basis." 
  16. Safaribooksonline.comNiemiec, Richard (25 जून 2007) "1.30. New Background Processes in 10g" Oracle Database 10g Performance Tuning: Tips & Techniques Oracle Press प॰ 967 आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-0722-6305-3 http://my.safaribooksonline.com/9780072263053/new_background_processes_in_10. अभिगमन तिथि: 2009-08-12 "M000 These are MMON background slave (m000) processes." 
  17. Cyran, Michele; Paul Lane (2005). "Process Architecture". Oracle Database Concepts. Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B19306_01/server.102/b14220/process.htm#sthref1481. अभिगमन तिथि: 2008-08-13. "When a user runs an application program (such as a Pro*C program) or an Oracle tool (such as Enterprise Manager or SQL*Plus), Oracle creates a user process to run the user's application." 
  18. Cyran, Michele; Paul Lane (2005). "Process Architecture". Oracle Database Concepts. Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B19306_01/server.102/b14220/process.htm#sthref1481. अभिगमन तिथि: 2008-08-13. "A connection is a communication pathway between a user process and an Oracle instance." 
  19. Cyran, Michele; Paul Lane (2005). "Process Architecture". Oracle Database Concepts. Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B19306_01/server.102/b14220/process.htm#sthref1481. अभिगमन तिथि: 2008-08-13. "A session is a specific connection of a user to an Oracle instance through a user process" 
  20. Morales, Tony (2008). "V$SESSION". Oracle Database Reference 11g Release 1(11.1). Oracle. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28320/dynviews_3016.htm. अभिगमन तिथि: 2008-11-17. 
  21. Chan, Immanuel (July 2008). "Glossary". Oracle Database Performance Tuning Guide 11g Release 1 (11.1). Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28274/glossary.htm?type=popup#sthref1649. अभिगमन तिथि: 2009-04-29. "enqueue[:] This is another term for a lock." 
  22. "Oracle Database Master Glossary: 11g Release 1 (11.1)". Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/mix.111/b14388/gloss-l.htm. अभिगमन तिथि: 2009-04-24. "latch[:] A simple, low-level serialization mechanism to protect shared data structures in the System Global Area." 
  23. Strohm, Richard; et al. (October 2008). "Parameter Files". Oracle Database Concepts 11g Release 1 (11.1). Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28318/intro.htm#sthref23. अभिगमन तिथि: 2009-07-14. "Parameter files contain a list of configuration parameters for that instance and database." 
  24. Strohm, Richard; et al. (October 2008). "Initialization Parameter Files and Server Parameter Files". Oracle Database Concepts 11g Release 1 (11.1). Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28318/startup.htm#i9633. अभिगमन तिथि: 2009-07-14. 
  25. Morales, Tony; et al. (April 2009). "V$PARAMETER". Oracle Database Reference 11g Release 1 (11.1). Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28320/dynviews_2.htm#insertedID85. अभिगमन तिथि: 2009-07-14. "V$PARAMETER displays information about the initialization parameters that are currently in effect for the session." 
  26. Morales, Tony; et al. (April 2009). "V$SPPARAMETER". Oracle Database Reference 11g Release 1 (11.1). Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28320/dynviews_3.htm#insertedID41. अभिगमन तिथि: 2009-07-14. "V$SPPARAMETER displays information about the contents of the server parameter file." 
  27. "Locale Languages". http://download.oracle.com/docs/cd/B19306_01/server.102/b14225/applocaledata.htm#i634428. अभिगमन तिथि: 2008-02-26. 
  28. "Error Message languagues". http://download.oracle.com/docs/cd/B19306_01/server.102/b14225/applocaledata.htm#i634673. अभिगमन तिथि: 2008-02-26. 
  29. Shea, Cathy; et al. (September 2007). "Overview of Globalization Support". Oracle Database Globalization Support Guide 11g Release 1 (11.1). Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28298/ch1overview.htm#sthref8. अभिगमन तिथि: 2009-02-16. "In the past, Oracle referred to globalization support capabilities as National Language Support (NLS) features. NLS is actually a subset of globalization support. NLS is the ability to choose a national language and store data in a specific character set. Globalization support enables you to develop multilingual applications and software products that can be accessed and run from anywhere in the world simultaneously." 
  30. जैसा लैरी एलिसन ने 11 नवम्बर 2007 को एक Oracle ओपन वर्ल्ड मुख्य प्रस्तुति में कहा: "कैलिफोर्निया में चार लोगों से एक 1.0 संस्करण कौन खरीदेगा?"
  31. Oracle.com
  32. Oracle.com की तुलना
  33. "Oracle Database 10g Sets New Record for TPC-H Three TB Benchmark". http://www.itmanagement.com/press-releases/oracle-tpc-h-record-060806/. अभिगमन तिथि: 2008-01-31. 
  34. Oracle डाटाबेस पैच सेटस
  35. ग्रीनवल्ड, आर., स्टेकोविआक आर. और स्टर्न, जे.(2001). Oracle अनिवार्य: Oracle9i, Oracle8i और Oracle8 (दूसरा संस्करण). केम्ब्रिज, MA: ओ'रिली.
  36. Oracle.com, लेकिन इन्फोर्मिक्स के दावों की प्राथमिकता से तुलना करें: Linuxjournal.com, पुनः प्राप्त 13 फ़रवरी 2008 और पोलिहेड्रा का
  37. एंटरप्राइज़ एडिशन
  38. स्टेंडर्ड एडिशन
  39. स्टेंडर्ड एडिशन एक
  40. एक्सप्रेस एडिशन
  41. "Oracle Data Sheet" (PDF). http://www.oracle.com/technology/products/database/xe/pdf/dbxe_faq.pdf. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  42. "Oracle Database Lite 10g". oracle.com. Oracle Corporation. http://www.oracle.com/database/lite_edition.html. अभिगमन तिथि: 2009-06-23. "[...] for developing, deploying and managing applications for mobile and embedded environments." 
  43. Oracle डेटाबेस विकल्प
  44. download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/license.111/b28287/options.htm#CIHBDGAD देखें
  45. ""Real Application Testing Overview"". Oracle Corporation. August 2007. http://www.oracle.com/technology/products/manageability/database/pdf/wp07/owp_real_application_testing_11g.pdf. अभिगमन तिथि: 2008-05-19. 
  46. http://oraclestore.oracle.com/ for various markets/countries पर "शब्द लाइसेंस" देखें.
  47. "Oracle Programmer/2000" (PDF). Oracle Corporation. http://www.alise.lv/ALISE/mrktinfo.nsf/6022a43db1063796c22566de00392130/420e0389f8672386c225645e00344ecb/$FILE/Oracle%20Programmer%202000%20data%20sheet%20Feb97.pdf. अभिगमन तिथि: 2009-02-25. "Oracle Programmer/2000 is a suite of programmatic interfaces that allows you to access and manipulate Oracle7 data and schemas. Programmer/2000 provides a rich set of interfaces and supports many programming languages, allowing the programmer to use the programming language and the programming paradigm of choice." 
  48. "Other Ways of Working with Oracle". Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/A58617_01/server.804/a53717/ch1.htm#index0015. अभिगमन तिथि: 2009-02-25. "Programmer/2000[:] a set of 3GL programming language interfaces" 
  49. Alapati, Sam R. (2005) Expert Oracle database 10g administration Apress प॰ 845 आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781590594513 http://books.google.co.nz/books?id=xxx0KAwY_ZMC&pg=PA845&lpg=PA845&dq=ASH++Active+Session+History&source=bl&ots=4DmmvFmU7v&sig=vpOt0kvOidJo-iSC-EJ_kRTyDAI&hl=en&ei=b-EZSo3qBISIkAXKoyk&sa=X&oi=book_result&ct=result&resnum=8#PPA845,M1. अभिगमन तिथि: 2009-05-25 "... ASH records very recent session activity (within the last five or ten minutes)." 
  50. "Oracle Database Workload Performance Measurement and Tuning Toolkit". Issues in Informing Science and Information Technology 3: 371-381. 2006. http://74.125.155.132/scholar?q=cache:uPdNes3VcSAJ:scholar.google.com/. अभिगमन तिथि: 2010-02-05. "Statspack utility consists of a set of Programming Language/Structured Query Language (PL/SQL) scripts, executed against the database, in order to gather, store data and metrics, and generates reports of the database activity". 
  51. "Overview of Oracle Data Pump". Download.oracle.com. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/server.111/b28319/dp_overview.htm#SUTIL100. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  52. Greenwald, Rick; Robert Stackowiak, Jonathan Stern (November 2007). Oracle Essentials: Oracle Database 11g. O'Reilly. प॰ 184. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0596514549. "The Database Resource Manager (DRM) was first introduced in Oracle8i [...] to place limits on the amount of computer resources that can be used [...]" 
  53. "Feature Availability by Edition". Oracle Database Licensing Information 11g Release 1 (11.1) Part Number B28287-08. Oracle Corporation. May 2008. http://download.oracle.com/docs/cd/B28359_01/license.111/b28287/editions.htm#CJACGHEB. अभिगमन तिथि: 2008-08-19. 
  54. Nanda, Arup. "Auditing Tells All". Oracle Database 10g: The Top 20 Features for DBAs. Oracle Corporation. http://www.oracle.com/technology/pub/articles/10gdba/week10_10gdba.html. अभिगमन तिथि: 2008-08-19. "...the standard audit (available in all versions) and the fine-grained audit (available in Oracle9i and up ..." 
  55. Oracle.com
  56. "Oracle Product Accessibility Status: Database Server Enterprise Edition". Oracle Corporation. 2 जून 2008. http://www.oracle.com/accessibility/templates/t1286.html. अभिगमन तिथि: 2009-04-14. 
  57. "Oracle Data Provider for .NET". Oracle Corporation. http://www.oracle.com/technology/tech/windows/odpnet/index.html. अभिगमन तिथि: 2009-05-07. "The Oracle Data Provider for .NET (ODP.NET) features optimized ADO.NET data access to the Oracle database." 
  58. "आभासी निजी डाटाबेस" Oracle एंटरप्राइज़ एडिशन के एक भाग के रूप में उपलब्ध एक फीचर के रूप में सूचीबद्ध प्रतीत होता है: Manmeet Ahluwalia; et al. (October 2009). "Feature Availability by Edition". Oracle Database Licensing Information 11g Release 2 (11.2). Oracle Corporation. http://download.oracle.com/docs/cd/E11882_01/license.112/e10594/editions.htm. अभिगमन तिथि: 2010-02-09. 
  59. Kate, Aniket; Menezes, Bernard; Singh, Ashish (December 2005), "Security/Privacy Issues in Providing Database as a Service", Proceedings of 3rd International Conference on E-Governance, ICEG 2005 (PDF), Lahore: Lahore University of Management Sciences, p. 158-159, retrieved 2010-02-09, Oracle's Virtual Private Database (VPD) [...] is a practically implemented model for fine-grained access control wherein one or more security policies are attached to each table and view in the database. These polices are sets of functions coded in PL/SQL, C or Java. A user query that accesses a table or view having a security policy, is dynamically and transparently modified by appending a predicate. This predicate is returned by the policy function for the relation/view and is a function of the user who has fired the query. A secure application context is created for each user at log in. More than one of |pages= and |page= specified (help)
  60. "Advanced MetaLink" (PDF). http://www.oracle.com/global/tr/support/051006_ADVANCEDMETALINK_CUSTOMER.pdf. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  61. Rea, Stephen (16 सितंबर 2008). "Upgrading Oracle 9.2.0.6 to 10.2.0.3 on AIX 5.2". University of Arkansas. http://www.uaex.edu/srea/10gR2_upgrade.txt. अभिगमन तिथि: 2009-08-11. "Run the PreInstall checklist for Oracle 10.2.0 (Metalink Note 250262.1: RDA 4 - Health Check / Validation Engine Guide): The Health Check Validation Engine (HCVE) rule set for Oracle Database 10g R2 (10.2.0) PreInstall (AIX) is described in: Oracle.com" 
  62. हंगेरियन में [1]मामले के बारे में
  63. प्रकाशित मूल्य सूची देखें.
  64. Oracle डाटाबेस लाइसेंसिंग सूचना [2]डाटाबेस संस्करण
  65. "Installation centos; official Oracle Wiki". Wiki.oracle.com. http://wiki.oracle.com/page/Installing+Oracle+on+CentOS. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 
  66. "Installation on Debian-based systems; official Oracle Wiki". Wiki.oracle.com. http://wiki.oracle.com/page/Installing+Oracle+on+Debian+%2F+Kubuntu+%2F+Ubuntu. अभिगमन तिथि: 2009-12-19. 

ग्रंथ सूची[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]