सामग्री पर जाएँ

ओम प्रकाश मुंजाल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
ओम प्रकाश मुंजाल
जन्म 26 अगस्त 1928
कमलिया, पंजाब, ब्रिटिश भारत
मौत 13 अगस्त 2015(2015-08-13) (उम्र 86)
लुधियाना, पंजाब, भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
पेशा हीरो साइकिल के सह-संस्थापक और अध्यक्ष
कार्यकाल 1944–2015
जीवनसाथी सुदर्शन मुंजाल
बच्चे 5

ओम प्रकाश मुंजाल (26 अगस्त 1928 - 13 अगस्त 2015), हीरो साइकिल के सेवानिवृत्त अध्यक्ष और हीरो ग्रुप के सह-संस्थापक थे। उन्होंने वर्ष 1956 में ‘हीरो ग्रुप’ कंपनी के गठन के साथ ही भारत की पहली साइकिल का निर्माण करने वाली ईकाई की शुरूआत की थी, जो वर्ष 1980 के दौर में दुनिया में सबसे ज्यादा साइकिल की निर्माता कंपनी बन गई। विश्व के सबसे बड़े साइकिल निर्माता के तौर पर वर्ष 1986 में हीरो साइकिल का नाम ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में भी दर्ज हुआ।[1][2]वे अपने काम के प्रति बेहद ईमानदार थे। वे अपने ग्राहकों को कभी भी निराश नहीं करते थे। एक बार जब उनकी कंपनी के कार्यकर्ता हड़ताल पर थे तो उन्होने खुद ही फैक्ट्री में काम करना शुरू कर दिया। इसे देखते हुए कार्यकर्ताओं ने हड़ताल बंद कर वापस काम में लग गए थे।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "हीरो साइकिल के संस्थापक ओम प्रकाश मुंजाल का निधन". आईबीएन खबर. 13 अगस्त 2015. मूल से 14 अगस्त 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 अगस्त 2015.
  2. "हीरो साइकल्स के सह-अध्यक्ष ओम प्रकाश मुंजाल का निधन". लाइव हिंदुस्तान. 13 अगस्त 2015. मूल से 14 अगस्त 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 अगस्त 2015.
  3. "जब करोड़ों की कंपनी का मालिक बन गया वर्कर और खत्म हो गई हड़ताल". दैनिक भास्कर. 14 अगस्त 2015. मूल से 14 अगस्त 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 24 अगस्त 2015.

मै देश के लिए कुछ करना चाहता हु । श्री मुंजाल जी, आप ने अभी जो hiro optima जैसी ईलेकट्रीक टुविलर लोंच की है, उसमे थोड़ा संशोधन करने की जरूरत है ।

क्या उसमे 1 या 2 लीटर की पेट्रोल टंकी फीट हो सकती है? यदि ऐसा होता है तो कस्टमर को बहुत ही अच्छा रहेगा । 

इसकी वजह है, हमारे देश मे मध्यम वर्ग ज्यादा है अगर 1-2 लोगो को 50, 100 कि,मी जाना हो तो वो आराम से जा सकता है। बीच मे अगर चार्जीग पुरा होने का डर नही रहेगा। ऐसी गाड़ी हमारे देश मे तो चलेगी ही, लेकिन विदेशो मे भी चलेगी । जय हिंद, ,,,

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]