ऐन्टिमोनी पेन्टाक्लोराइड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ऐन्टिमोनी पेन्टाक्लोराइड, जिसका रासायनिक सूत्र SbCl5 है, ऐन्टिमोनी और क्लोरीन तत्वों का एक यौगिक (कम्पाउंड) है। यह एक रंगहीन तेल होता है। इसमें तेज़ी से जल के साथ रासायनिक अभिक्रिया (रियेक्शन) का स्वाभाव होता है, जिस कारणवश अगर हवा में ज़रा भी नमी हो तो यह उस से अभिक्रिया करके हाइड्रोक्लोरिक अम्ल बना लेता है।[1]

ख़तरा[संपादित करें]

बहुत कम मात्रा पानी या नमी की उपस्थिति में भी ऐन्टिमोनी पेन्टाक्लोराइड तेज़ी से हाइड्रोक्लोरिक अम्ल की गैस बना लेता है जो बहुत ही क्षयकारी (कई पदार्थों को गलाने या काट देने वाली) होती है। यह रासायनिक अभिक्रिया इस प्रकार है:

2 SbCl5 + 5 H2O → Sb2O5 + 10 HCl

इस लिये यह रसायन बहुत सावधानी से रखना पड़ता है, वरना इसमें इस्पात और कई प्रकार के प्लास्टिक को ख़रोंचने या उसे गला देने की क्षमता है। अपनी इस आसानी से क्लोरीन के परमाणु छोड़ सकने के कारण यह एक शक्तिशाली ऑक्सीकारक भी समझा जाता है।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Greenwood, Norman N.; Earnshaw, Alan (1997). Chemistry of the Elements (2nd ed.). Butterworth-Heinemann. ISBN 0080379419.
  2. Connelly, N. G. and Geiger, W. E. (1996). "Chemical Redox Agents for Organometallic Chemistry". Chem. Rev. 96: 877–922. doi:10.1021/cr940053x. PMID 11848774.