एर्राप्रेगड्डा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

एर्राप्रेगड्डा (तेलुगु: ఎర్రాప్రగడ) एक तेलुगु कवि थे जिन्हे 'प्रबन्ध परमेश्वर' की उपाधि से विभूषित किया गया था। वे राजा प्रोलया वेमा रेड्डी 1325–1353) के दरबारी कवि थे जो रेड्डी राजवंश के संस्थापक थे। वे कवित्रय में से एक हैं। ये 'कवि शंभुदास' के नाम से भी प्रसिद्ध हैं। इन्होंने महाभारत के अरण्यपर्व के अवशिष्ट भाग का अनुवाद किया। इसलिये महाभारत के तीनों रचयिता "कवित्रयमु" के नाम से प्रसिद्ध हैं। एर्राप्रेगड्डा की अन्य कृतियाँ तेलुगु में 'नृसिंहपुराणमु' और 'हरिवंश' आदि हैं।