एराकेश्वर मन्दिर, पिल्लालमर्री

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
एराकेश्वर मन्दिर
Erakeswara Temple
ఎఱకేశ్వర దేవాలయం
Erakesvara temple, Pillalamarri, Suryapet district, Telangana 02.jpg
एराकेश्वर मन्दिर, पिल्लालमर्री
धर्म संबंधी जानकारी
सम्बद्धताहिंदू धर्म
देवताभगवान शिव
अवस्थिति जानकारी
अवस्थितिपिल्लालमर्री
ज़िलासूर्यापेट ज़िला
राज्यतेलंगाना
देश भारत
एराकेश्वर मन्दिर, पिल्लालमर्री is located in तेलंगाना
एराकेश्वर मन्दिर, पिल्लालमर्री
तेलंगाना में स्थान
भौगोलिक निर्देशांक17°10′11″N 79°34′56″E / 17.1696°N 79.5822°E / 17.1696; 79.5822निर्देशांक: 17°10′11″N 79°34′56″E / 17.1696°N 79.5822°E / 17.1696; 79.5822
वास्तु विवरण
प्रकारकाकतीय वास्तुशैली
निर्माण पूर्णलगभग 1208 ईसवी

एराकेश्वर मन्दिर (Erakeswara Temple) भारत के तेलंगाना राज्य के सूर्यापेट ज़िले के पिल्लालमर्री ग्राम में स्थित एक हिन्दू मन्दिर है। यह भगवान शिव को समर्पित है। इसे लगभग सन् 1208 में मूसी नदी के किनारे एराक्सनी द्वारा निर्मित करा गया था, जो रिचेरिया वंश के बेटी रेड्डी नामक एक शासक की पत्नी थी। उस समय रिचेरिया काकतीय वंश के सामन्त हुआ करते थे। एराकेश्वर मन्दिर इस ग्राम में स्थित चार मन्दिरों में से एक है। अन्य तीन इस मन्दिर से लगभग 250 मीटर पूर्व में हैं। इनमें दो जुड़वा मन्दिर हैं - पार्वती-महादेव नामेश्वर मन्दिर - और तीसरा खंडहर-अवस्था में अलग खड़ा हुआ भगवान विष्णु को समर्पित चेन्नाकेशव मन्दिर है।[1][2][3][4][5]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Rao, P. R. Ramachandra (2005). The Splendour of Andhra Art (अंग्रेज़ी में). Akshara. पृ॰ 86.
  2. "Monuments - Archaeology and Museums". tsdam.com. अभिगमन तिथि 2020-10-28.
  3. Rao, M. Rama (1966). Select Kākatīya Temples (अंग्रेज़ी में). Sri Venkatesvara University. पृ॰ 91.
  4. Ganapathi, Racharla (2000). Subordinate Rulers in Medieval Deccan (अंग्रेज़ी में). Bharatiya Kala Prakashan. पृ॰ 155. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-86050-53-8.
  5. Kumari, V. Anila (1997). The Andhra Culture During the Kakatiyan Times (अंग्रेज़ी में). Eastern Book Linkers. पृ॰ 3. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-81-86339-15-2.