एन ईवनिंग इन पेरिस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एन ईवनिंग इन पेरिस
एन ईवनिंग इन पेरिस.jpg
फ़िल्म का पोस्टर
निर्देशक शक्ति सामंत
निर्माता शक्ति सामंत
लेखक रमेश पंत
अभिनेता शम्मी कपूर,
शर्मिला टैगोर,
प्राण
संगीतकार शंकर-जयकिशन
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1967
समय सीमा मिनट
देश भारत
भाषा हिन्दी

एन ईवनिंग इन पेरिस 1967 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह शक्ति सामंत द्वारा निर्मित और निर्देशित है।[1] यह फ्रांस की राजधानी पेरिस के इर्द-गिर्द घूमती है। फिल्म में शम्मी कपूर, शर्मिला टैगोर दोहरी भूमिका में और खलनायक के रूप में प्राण हैं। संगीत शंकर-जयकिशन द्वारा दिया गया।

संक्षेप[संपादित करें]

पेरिस में, भारतीय मूल के दो पेरिसवासी श्याम या सैम (शम्मी कपूर) और रूपा (शर्मिला टैगोर) प्यार में हैं। रहस्य और साज़िश इस प्रेम कहानी को घेर लेती है, क्योंकि रूपा का अपहरण कर लिया जाता है और अपराधी मास्टरमाइंड जैक (के एन सिंह) और उसके गुंडों द्वारा पकड़ लिया जाता है। वह उसके बदले मोटी फिरौती की मांग करते हैं।

रूपा के पास सूजी के रूप में उसके जैसी दिखने वाली है, जिसे रूपा की जगह भेजा जाता है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि पैसा प्राप्त होगा। जबकि असली रूपा को अभी भी बंदी बनाया हुआ है। रूपा को मुक्त करने के लिए सैम को उपलब्ध सभी संसाधनों का उपयोग करना होगा, लेकिन सूजी और रूपा के बीच फर्क करने में उसे मुश्किल होगी।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी शंकर-जयकिशन द्वारा संगीतबद्ध।

क्र॰शीर्षकगीतकारगायकअवधि
1."रात के हमसफर थक के घर को चले"शैलेन्द्रआशा भोंसले, मोहम्मद रफ़ी5:36
2."होगा तुमसे कल भी सामना"शैलेन्द्रमोहम्मद रफ़ी3:26
3."ज़ूबी ज़ूबी जलेम्बू"हसरत जयपुरीआशा भोंसले3:29
4."लेजा लेजा लेजा मेरा दिल"शैलेन्द्रशारदा3:30
5."दीवाने का नाम तो पूछो"शैलेन्द्रमोहम्मद रफ़ी4:27
6."अकेले अकेले कहाँ जा रहे हो"हसरत जयपुरीमोहम्मद रफ़ी4:46
7."मेरा दिल है तेरा"शैलेन्द्रमोहम्मद रफ़ी5:12
8."आसमान से आया फरिश्ता"हसरत जयपुरीमोहम्मद रफ़ी5:16
9."एन ईवनिंग इन पेरिस"हसरत जयपुरीमोहम्मद रफ़ी5:17

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "राजेश खन्ना को सुपरस्टार बनाने वाले शक्ति सामंत की कहानी". द क्विंट. 9 अप्रैल 2019. अभिगमन तिथि 22 सितम्बर 2019.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]