एदिथ अबोत्त

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

एदिथ एबट एक अमरीकि अर्थशासत्री,सामाजिक कार्यकर्ता, सिक्षक, एव्ं लेखक थे। उनकी छोटी बहन का नाम ग्रेस एबट था।

सिक्षा[संपादित करें]

इनका जन्म २५ सप्तम्बर, १८७६ को ग्रैंद आइलेंड में हुआ था। एदिथ की माँ क नाम एलीज़ाबेथ एबट था और पिता क नाम ओथेमान था। इन्होंने १८९३ में ब्राऊनेल हॉल से स्नातक की उपाधि प्राप्त की, जो की ओमाहा में ऐक आवासीय स्कुल थी। क्योंकि उन्के परिवार के पास उन्हें कॉलेज कि सीक्षा देने के लिये उप्युक्त पैसे नहीं थे, तो वह खुद ही १९०१ से नेबरासका वीश्वविद्यालए में सीक्षा प्रदान करने लगी। सीक्षक बन्ने के दो साल बाद ,एबट शिकागो वीश्वविद्यालए की हिस्सा बन्ने में कामयाब हुई , और १९०५ में उन्हें अर्थशात्री में पीएचङी भी मिली। १९०६ में एबट को कार्नेगी फेलोशीप मिलि,और उहोनें वीश्वविद्यालए कॉलेज लंदन और 'लंदन स्कुल आॉफ इकोनौमिक्स' में अपनी आगे की सीक्षा ज़ारी रखी। उन्होंने समाज सुधारी लोग-सिदनी वेब और बिएत्रिस वेब से भी सिखा, जो गरीबी दूर करने की नई तरीके बाहार लानें में बेगहद कामयाब और सुप्रशिध थे। इन दोनो ने एबट की व्यवसाए बनाने में उन्हें सही रस्ता दिखाया। इन दोनो क यह् मान्ना था की ब्रिटिष शासन के सभी 'गारीब कानुनो' को रर्द्द कर देना चाहिये क्यॊंकी वहाँ गारीब लॊगॊ को नीचा दिखाते हैं ,और यह दोनों ने कइ गरीबी मिटाने की कार्यक्रमों में भी हिस्सा लिया हैं। लंदन में एबट एक सामाजिक सुधारक के घर में रहे, जो कि उत्तर में एक गरीब त्रस्त इलाका था। वही उन्होनें सामाजिक काम में अनुभव पाया। उसकी अगले साल एबट अमेरीका लौट गैइ और वैलेसलि कॉलेज में अर्थशासत्र की पढाई की।

शुरुआती सिक्षा[संपादित करें]

एबट सोफोनिसबा ब्रेकिनरिज के सहायक भी बने , फिर 'शिकागो स्कुल आॉफ सिविक्स और फिलैन्त्रोफी' में सामाजिक अनुसंधान् के निरदेशक भी बने। इस स्थान में एबट ने किशोर उपचारी आदि के अध्ययन में अपना उपदान दिया। उन्होंने उद्योग में शामिल औरतें और द्ंड प्रणाली के बारे में भी अध्ययन बनाए। वह अपनी बहन ग्रेस के साथ ह्ल्ल हाउज़ में १९०८-१९२० के बीच रही, और उन लोगों के सथ काम किया जो कि जेन एदम्स और उनकि सामाजिक कार्यो का सहयोग करते थे। १९२० में अबौत्त और ब्रिकेनरिज ने स्कुल आॉफ सिविक्स और फिलैन्त्रोफी का हस्तांतरण शिकागो वीश्वविद्यालए में किया, जिसका फिर नाम 'स्कुल आॉफ सोशियल सरविस एदमिनिसत्रेशन' रखा गया। यह सकूल पहले वीश्वविद्यालए आधारित सामाजिक कार्य के लिये बनी गई थी। १९२८ में एबट स्कुल के डीन बने , जो कि अमरीका में स्नातक वीश्वविद्यालए की डीन् बन्ने वाली पहली स्त्री थी। उनहोंने १९४२ तक यहाँ काम किया, और उन्होंने सामाजिक कार्य में औपचारिक सिक्षा की मत्त्वता के बारे में लोगो को बताया और कैसे क्षॆत्र अनुभव इस्का हिस्सा होता हैं। फिर इसके पशचात उन्होण्ने जनता के कल्याण की कुक काउंटी ब्युरो। एबट ने कई शोध प्रकाशीत किये जैसे: 1.'वीमैन इन इनद्रसत्री' (१९१०) 2.'द रीयल जेल प्रॉबलम'(१९१५) ब्रेकनीज के साथ निम्नलिखीत् शोध प्रकाशीत किये- 'The Delinquent Child and the Home'(1910) 'Truancy and non Attendance in the Chicago Schools (1917) उन दोनो औरतो ने १९२७ को 'सोशियल सरविस रीवियू' नामक पत्रिका को प्रभावित किया और 'युनीवरसिटी आॉफ शिकागो सोशीयल सीरिस'के किताबो और मोनोग्राफो का शुभारंभ भी किया। यह करने में उन्होंने उपन्यास,रिकार्ड और सार्वजनिक दस्तावेज़ो का उपयोग किया।

भविश्य की व्यवसाए[संपादित करें]

एबट एक प्रमुख आव्रजन विशेशग्य थी,और वह आप्रवासियो के शोषण् के खिलाफ आवाज़ उठाती थी। उन्हें कम्मिट्टी ऑफ क्राईम का अध्यक्श के स्थान पर नियुक्त किया गया। फिर, १९३५ में एबट ने सामाजिक सुरक्षा अधिनियम का प्ररुप में मदद किया। १९२४-१९५३ के बीच में एबट ने सामाजिक सेवा की समीक्षा का संपादन किया। और १९२७ में ब्रेकीनब्रिज के साथ उसकी सह-स्थापना भी की।

एबट ने अपनी ज़िंदगी के आँखरी साल अपने परिबवार के घर में ,भाई आरथर् के साथ बिताई और यही वह निमोनिया होने के कारण मर गइ।

प्रकाशन[संपादित करें]

Women in history; a study in economic resarch history.New York Londo D Appleton & Co.,1910.

सन्दर्भ[संपादित करें]

1.[1] 2.[^ "Abbott, Edith." American Women Writers: A Critical Reference Guide from Colonial Times to the Present. Gale. 2000]