एकीकृत कैंसर विज्ञान केंद्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

एकीकृत कैंसर विज्ञान केंद्र (Integrative oncology center) विभिन्न बीमारियों के इलाज में एलोपैथ के साथ आयुर्वेद व यूनानी चिकित्सा पद्धति को भी बराबर का स्थान दिए जाने के उद्देश्य से नोएडा के सेक्टर 39 में देश का पहला एकीकृत कैंसर विज्ञान केंद्र स्थापित होने जा रहा है। इसकी स्थापना के लिए गत दिनों केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के स्वायत्त संस्थान एनआइसीपीआर एवं आयुष मंत्रालय के स्वायत्त संस्थान अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (एआइआइए) के बीच एमओयू साइन किया जा चुका है। [1]

एकीकृत कैंसर विज्ञान केंद्र के प्रारम्भ होने की तिथि[संपादित करें]

दिसंबर 2016-जनवरी 2017[1]

स्थान[संपादित करें]

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कैंसर प्रिवेन्शन एंड रिसर्च (एनआइसीपीआर)[1]

उद्देश्य[संपादित करें]

इस केन्द्र के जरिये कैंसर के खिलाफ जंग में पहली बार एलोपैथ के साथ आयुर्वेद व यूनानी चिकित्सा पद्धति का संयुक्त इस्तेमाल होगा।[1]

कार्यविधि[संपादित करें]

आयुष विभाग व एनआइसीपीआर के डॉक्टर मिलकर कैंसर के इलाज, रोकथाम एवं अनुसंधान में सहयोग करेंगे। एआइआइए कैंसर संबंधी डेटा जुटाने के बाद उसका इलेक्ट्रॉनिक रिकॉर्ड तैयार कर एनआइसीपीआर को देगा। संस्थान में संयुक्त शोध कार्यक्रम संचालित किए जाएंगे। [1]

सन्दर्भ[संपादित करें]