ऋषिका

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ऋषिका वेदों की ऋचाओँ का या मन्त्रों का साक्षात्कार करने वाली महिलाओं को कहते हैं। ऋषिकाएँ सामान्यतः अपने ज्ञान के अनुसार ही ऋषिका पद को प्राप्त होती थीं। वेदों में अनेक ऋषिकाओँ का उल्लेख प्राप्त है, जिन में से लोपामुद्रा, अदिति, रोमशा, अपाला, जुहू, वागाम्भृणी, विश्ववारा, शश्वती, सूर्या, इन्द्राणी, इन्द्रमातरः, इन्द्रस्नुषा, रात्रिः, सार्पराज्ञी, यमी इत्यादि।

ऋषिकाओं का अध्ययन[संपादित करें]

गृहस्थाश्रम[संपादित करें]

अमाजू ऋषिकाएँ[संपादित करें]

सम्बद्ध लेख[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]