उस्ताद अब्दुल करीम खाँ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

उस्ताद अब्दुल करीम खाँ (१८७२-१९३७) बीसवीं सदी में किराना शैली के सर्वाधिक महत्वपूर्ण भारतीय संगीतज्ञ थे। इन्हें किराना घराने का वास्तविक संस्थापक माना जाता है। उस्ताद करीम खाँ कर्णाटक संगीत शैली में भी पारंगत थे। इनका मैसूर दरबार से गहरा संबंध था। उन्होंने संगीत जगत को कई कलाकार दिए जैसे हीराबाई बडोदकर, सरस्वती रानेे,रोशनआरा बेगम ,सुरेश बाबू माने ,पंडित रामभाई ,बहरे बूआ आदी.

जीवन वृत्त[संपादित करें]

उस्ताद अब्दुल करीम खाँ का जन्म 11 नवंबर,1872 में उत्तर प्रदेश के प्रबुद्ध नगर जिले (जो की अब जिला शामली में है) के एक तहसील कस्बा कैराना में हुआ था। १९३७ में उनका निधन हो गया।

पिता का नाम- काले खां

चाचा का नाम- अब्दुल खां

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]