उपेन्द्र कुशवाहा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
उपेन्द्र कुशवाहा
The Minister of State for Human Resource Development, Shri Upendra Kushwaha addressing at the inauguration of the Kala Utsav-2016, in New Delhi on November 15, 2016.jpg
जन्म 2 जून 1960[1]
वैशाली[1]
नागरिकता भारत[2]
शिक्षा बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर बिहार विश्वविद्यालय
व्यवसाय राजनीतिज्ञ[2]
राजनैतिक पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी[2]

उपेन्द्र कुशवाहा भारत की सोलहवीं लोकसभा में सांसद हैं। 2014 के चुनावों में इन्होंने बिहार की काराकाट सीट से राष्ट्रीय लोक समता पार्टी की ओर से भाग लिया।[3]


राजनीतिक जीवन[संपादित करें]

आरंभ में उपेन्द्र कुशवाहा जनता दल (यूनाइटेड) के सदस्य थे। नवंबर 2005 में हुए विधानसभा चुनाव में कुशवाहा अपने ही चुनाव क्षेत्र से हार गए और वो भी तब, जब जेडी (यू) और भाजपा की भारी जीत हुई. इसके बाद कुशवाहा ने जनता दल (यूनाइटेड) का साथ छोड़कर नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी का हाथ थाम लिया। कुशवाहा ने कोइरी जाति का समर्थन जुटाना शुरू किया. उस वक़्त कोइरी और कुर्मी समाज जेडी (यू) का मुख्य वोटबैंक था. आधिकारिक तौर पर किसी भी जाति की ठीक-ठीक जनसंख्या बताना तो मुश्किल है, लेकिन बिहार की राजनीति पर नज़र रखने वालों का मानना है कि बिहार में कुर्मी 2-3 फ़ीसदी हैं, जबकि कोइरी 5-6 फ़ीसदी है।31 अक्टूबर 2009 को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती के मौके पर नीतीश कुमार ने उपेंद्र कुशवाहा को जेडी (यू) में लौट आने का न्यौता दिया। दो फ़रवरी 2010 को शोषित समाज दल के दिवंगत और समाजवादी नेता बाबू जगदेव प्रसाद की जयंती के मौक़े पर नीतीश और कुशवाहा ने सार्वजनिक तौर पर पिछड़ी जातियों के समर्थन की घोषणा की.

उस वक़्त अगले सावन भादो में, गोरी कलाइयां कादो (कीचड़) में' जैसे ऊंची जाति विरोधी नारे लगाए गए थे. उसी साल नीतीश कुमार ने उपेंद्र कुशवाहा को राज्यसभा भेज दिया. इसके बाद राजनीतिक रूप से सशक्त कुशवाहा ने जेडी (यू) के भीतर अपनी ताक़त दिखाना शुरू किया. वो एक बार फिर 2013 में तीन मार्च को जदयू से अलग हो गए और रालोसपा नाम की अलग पार्टी बना ली.रालोसपा शुरू में भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी पार्टी थी[4]पर 2015 विधानसभा चुनाव के बाद जदयू के राजग में दोबारा शामिल होने पर उसे राजग छोड़ना पड़ा।[5][6]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. फ्रीबेस डेटा डंप, गूगलWikidata Q15241312
  2. https://eci.gov.in/files/category/97-general-election-2014/.
  3. भारतीय चुनाव आयोग की अधिसूचना, नई दिल्ली
  4. Gaikwad, Rahi (23 February 2014). "BJP to ally with OBC leader Upendra Kushwaha in Bihar". The Hindu.
  5. https://economictimes.indiatimes.com/news/politics-and-nation/upendra-khushwaha-resigns-as-union-minister-likely-to-quit-nda/articleshow/67022354.cms
  6. "RLSP may ditch NDA to join hands with RJD before 2019 polls". The Economic Times. 17 October 2017.