उद्योग सहजता सूचकांक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

उद्योग सहजता सूचकांक विश्व बैंक समूह के शिमोन ड्जांकौव के बनायी हुई सूचकांक है। प्रोफेसरों ओलिवर हार्ट और आंद्रेई ष्लॆफर के साथ मिल कर इन्होंने इस सूचकांक के लिये शोध की।[1] कोइ देश की उच्च रैंकिंग (यानि कम संख्यात्मक मूल्य) का मतलब होता है कि उस देश में व्यापार करने वालों के लिये अधिक अछ्चे (अधिकतर ज़्यादा सरल भी) नियम एवं अधिक मजबूत संपत्ति सुरक्षा अधिकार है। विष्व बैंक वित्त पोषित अनुभवजन्य अनुसंधान दिखाता है कि इन नियमों में सुघार लाने से आर्थिक विकास पर भारी प्रभाव पड़ता है। [2]

रंगीन नक्षा जिस में अधिक हरेपन का मतलब है कि उद्योग सहजता सूचकांक २०१७ में उस देश की रैंकिंग ज़्यादा अछ्ची है तथा अधिक लाल रंग का मतलब हरेपन से उलटा है।

पद्धति[संपादित करें]

राष्ट्रों की सूचकांक में रैंकिंग बनने में १० गुण देखते हैं:

पद्धति[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Doing Business - Measuring Business Regulations - World Bank Group". Doing Business. 2011-12-30. अभिगमन तिथि 2013-05-20.
  2. "Doing Business report series – World Bank Group". Doingbusiness.org. अभिगमन तिथि 2013-05-20.

संदर्भ[संपादित करें]