उत्राटम् तिरुनाल मार्तण्ड वर्मा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Uthradom Thirunal Marthanda Varma.jpg

उत्राटम् तिरुनाल मार्तण्ड वर्मा (मलयालम : ഉത്രാടം തിരുനാൾ മാർത്താണ്ഡവർമ്മ ; 22 मार्च 1922 – 16 दिसम्बर 2013) त्रावणकोर के महाराजा थे। वे त्रावण्कोर राज्य के अन्तिम शासक महाराजा चित्रा तुरुनल राम वर्मा के छोटे भाई थे।[1]

वे पद्मनाभवस्वामी मंदिर के संरक्षक के रूप में कार्य कर रहे थे। यह मंदिर हाल में अंतराष्ट्रीय चर्चा में तब आया जब इसके गुप्त तहखाने को खोला गया जिसमें अनुमानित एक लाख करोड से अधिक का खजाना होने की बात सार्वजनिक हुई थी। महाराजा मार्तण्ड वर्मा का विवाह लेफ्टिनेंट कर्नल गोपीनाथ पांडालई की पुत्री श्रीमती राधा देवी के साथ हुआ था। उनके परिवार में एक पुत्र अनंत पद्मनाभन और एक पुत्री पार्वती देती है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Uthradom Tirunal passes away" [उत्राटम् तिरुनाल चल बसे] (अंग्रेज़ी में). द हिन्दू. 17 दिसम्बर 2013. अभिगमन तिथि 23 जनवरी 2014.