उच्च पारक फिल्टर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
चित्र 1: एक एनालॉग और पैसिव उच्च पारक फिल्टर

उच्च पार्क फ़िल्टर अथवा हाई पास फ़िल्टर (अंग्रेज़ी: High-pass filter) एक इलेक्ट्रानिक फ़िल्टर है जो एक निश्चित कटऑफ़ से अधिक की फ़्रीक्वेंसी के संकेतों को निर्गमित होने देता है और इस कटऑफ़ से कम फ़्रीक्वेंसी के संकेतों को रोक लेता है। आमतौर पर इसे लो-कट फ़िल्टर अथवा बेस-कट फ़िल्टर भी कहा जाता है।[1]

बिम्ब कान्ति वर्धन[संपादित करें]

मूल चित्र बायें; दाहिने हिस्से में ४.९ त्रिज्या का हाई पास फिल्टर प्रयुक्त होने के बाद चित्र। फिल्टर के प्रयोग के बाद वे रेखाएं ही चित्र में बची हैं जिनके सहारे पिक्सेल्स के मानों में तीव्र परिवर्तन हैं।

बिम्ब कान्तिवर्धन (Image enhancement) की तकनीक के रूप में इसका प्रयोग किसी अंकीय बिम्ब में किनारों वाले तत्वों (edge features) को अधिक स्पष्ट रूप से दिखाने के लिये किया जाता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. वाटकिन्सन, जॉन (1998). The Art of Sound Reproduction [ध्वनि पुनरुत्पादन की कला]. फोकल प्रेस. पृ॰ 268, 479. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-240-51512-9. http://books.google.com/books?id=01u_Vm5i5isC&pg=PA479. अभिगमन तिथि: 13 नवम्बर 2015.