इस्त्वार द ल लितरेत्यूर ऐंदुई ऐ ऐंदुस्तानी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

इस्त्वार द ल लितरेत्यूर ऐंदुई ऐ ऐंदुस्तानी (Histoire de la littérature hindoue e hindoustani) के लेखक गार्सा द तासी हैं। इस ग्रंथ को उर्दू - हिन्दी अथवा हिन्दुस्तानी साहित्य का सर्व प्रथम इतिहास ग्रंथ माना जाता है। इसमें हिन्दी उर्दू के अनेक कवियों और लेखकों की जीवनियाँ, ग्रंथ विवरण और उद्धरण हैं। इसका पहला संस्करण दो भागों में सन् १८३९ तथा १८४७ में प्रकाशित हुआ था। इस ग्रंथ ने हिन्दी साहित्य की दीर्घकालीन परम्परा के बिखराव को सूत्रबद्ध किया है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. हिन्दी साहित्य कोश, भाग २, सम्पादक डा० धीरेन्द्र वर्मा, ज्ञान मण्डल लिमिटेड वाराणसी, द्वितीय संस्करण १९८६, पृष्ठ-१२८