इनसैट-1बी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
INSAT-1B
लॉन्च करने से पहले इनसैट-1बी
लॉन्च करने से पहले इनसैट-1बी
मिशन प्रकार संचार उपग्रह
संचालक (ऑपरेटर) भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन
कोस्पर आईडी 1983-089B
सैटकैट नं॰ 14318
मिशन अवधि 7 वर्ष
अंतरिक्ष यान के गुण
अंतरिक्ष यान प्रकार इनसैट-1
निर्माता फोर्ड एयरोस्पेस
लॉन्च वजन 1,152 किलोग्राम (2,540 पौंड)
मिशन का आरंभ
प्रक्षेपण तिथि 30 अगस्त 1983, 06:32:00 यु.टी.सी[1]
रॉकेट अंतरिक्ष शटल चैलेंजर
एसटीएस-8 / कैनेडी स्पेस सेंटर प्रक्षेपण परिसर 39, कैनेडी स्पेस सेंटर
ठेकेदार नासा
परियोजना तिथि 31 अगस्त 1983, 07:48 यु.टी.सी
मिशन का अंत
निष्कासन (डिस्पोज़ल) सेवामुक्त
निष्क्रिय अगस्त 1993
कक्षीय मापदण्ड
निर्देश प्रणाली भूकेन्द्रीय कक्षा
काल भू-स्थिर कक्षा
देशान्तर 74° पूर्व (1983-92)
93° पूर्व (1992-93)
अर्ध्य-मुख्य अक्ष (सेमी-मेजर ऑर्बिट) 42,164.88 किलोमीटर (26,200.04 मील)
विकेन्द्रता 0.0012393
परिधि (पेरीएपसिस) 35,741 किलोमीटर (22,208 मील)
उपसौर (एपोएपसिस) 35,846 किलोमीटर (22,274 मील)
झुकाव 14.69 डिग्री
अवधि 23.93 घंटे
युग 14 नवंबर 2013, 15:52:38 यु.टी.सी[2]

इनसैट-1बी (INSAT-1B) एक भारतीय संचार उपग्रह था जो भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह प्रणाली का हिस्सा था। इसे 1983 में लॉंच किया गया था और 74 डिग्री पूर्व के रेखांश पर भूस्तरण कक्षा में संचालित किया गया था।सन्दर्भ त्रुटि: अमान्य <ref> टैग; (संभवतः कई) अमान्य नाम

इसे फोर्ड एयरोस्पेस द्वारा निर्मित किया गया था और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन द्वारा संचालित किया गया था। इनसैट-1बी इनसैट-1 श्रृंखला के उपग्रहों के लिए विकसित कस्टम उपग्रह बस पर आधारित था। इसका लॉंच के समय 1,152 किलोग्राम (2,540 पाउंड) वजन था और इसकी सात साल तक काम करने की उम्मीद थी। अंतरिक्ष यान में सौर सरणी के द्वारा संचालित बारह सी बैंड और तीन एस बैंड ट्रांसपोंडर्स थे। स्थिरीकरण बूम का उपयोग उपग्रह के विषम डिजाइन से विकिरण टॉर्कों को संतुलित करने के लिए किया गया था।[3] अंतरिक्षयान को आर-4 डी-11 एपोजी मोटर द्वारा चालित किया गया था।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. McDowell, Jonathan. "Launch Log". Jonathan's Space Page. अभिगमन तिथि 16 November 2013.
  2. "INSAT 1B Satellite details 1983-089B NORAD 14318". N2YO. 14 November 2013. अभिगमन तिथि 16 November 2013.
  3. Harland, David M; Lorenz, Ralph D. (2005). Space Systems Failures (2006 संस्करण). Chichester: Springer-Praxis. पपृ॰ 302–3. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-387-21519-0.