आसज्जा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

आसज्जा (रेडीनेस / readiness) शब्द का प्रयोग साधारणतया 'सिद्धता' के अर्थ में किया जाता है। इसका अनुमान मनौवैज्ञानिकों ने बुद्धिपरीक्षाओं के आधार पर किया है। किसी भी कार्य को आरंभ करने के लिए यह आवश्यक माना गया है कि उसकी परीक्षा करके देख लिया जाए कि वह अमुक कार्य करने के लिए उपयुक्त है। इसके लिये यह आवश्यक है कि बौद्धिक स्तर मालूम किया जाए, उसके पिछले कार्यो का फल जान लिया जाए, स्वास्थ्य तथा उसका सामाजिक और भाषा संबंधी ज्ञान नाप लिया जाए।

पठन आसज्जा[संपादित करें]

बालकों के "पढ़ने की आसज्जा" (reading readiness) पर मनोवैज्ञानिकों ने विशेष कार्य किया है। अमरीका में गेट्स तथा बेंड ने महत्वपूर्ण कार्य किया है। इस अध्ययन का प्रयोग बालकों की प्रारंभिक शिक्षा तथा सामग्री को उचित रूप देने में किया गया है। जो लड़के पढ़ने लिखने में असफल रहे हैं उनकी शिक्षा दीक्षा में इसके द्वारा विशेष लाभ हुआ है। "पायग्नोरिस एंड रेमेडिअल टीचिंग" के विषय में इस देश में भी कुछ कार्य हो रहा है तथा कई स्थानों पर विषयों के अध्ययन की आसज्जा से संबंधित परीक्षाएँ प्रमाणित की जा रही हैं।