आर्द्र गुण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

आर्द्र एक हिन्दी भाषा का विशेषण है। [संज्ञा: √अर्द् (गति)+रक्, दीर्घ] [भाव.आर्द्रता]

अर्थ

1.गीला, तर, नम

2.पिघला हुआ

3.किसी प्रकार के रस या तरल पदार्थ से युक्त। जैसे-आर्द्र काष्ठ, आर्द्र नेत्र आदि।

4.सना हुआ। लथ-पथ।