आर्टेमिस कार्यक्रम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
लोगो

आर्टेमिस कार्यक्रम नासा के द्वारा निर्देशित एक अंतरिक्ष कार्यक्रम है जिसका लक्ष्य हमारे चाँद पर फिर से मनुष्यों को भेजना है और उसके बारे में और ज्यादा जानकारी जुटाना है।[1] आर्टेमिस कार्यक्रम चंद्रमा पर एक स्थायी उपस्थिति स्थापित करने के नासा के दीर्घकालिक लक्ष्य की दिशा में पहला कदम होगा, जो कि चंद्र अर्थव्यवस्था का निर्माण करने के लिए निजी कंपनियों की नींव रखेगा, और अंततः मानवों को मंगल ग्रह पर भेजेगा।[2]

नाम[संपादित करें]

आर्टेमिस अपोलो की जुड़वाँ बहन और ग्रीक (यूनानी) पौराणिक कथाओं में चंद्रमा की देवी थी। अब, वह चंद्रमा पर नासा के रास्ते का प्रतिनिधित्व करती है, २०२४ तक अंतरिक्ष यात्रियों को चाँद की सतह पर लौटाने के लिए नासा के कार्यक्रम के नाम के रूप में, जिसमें पहली महिला और अगला पुरुष भी शामिल है।[3]

योजना[संपादित करें]

जैसे अपोलो कार्यक्रम का ल्क्ष्य चाँद पर पहला मानव भेजना था, आर्टेमिस कार्यक्रम चंद्रमा पर एक स्थायी उपस्थिति स्थापित करने के दीर्घकालिक लक्ष्य की दिशा में पहला कदम होगा, और यह चाँद पर पहली औरत भी भेजेगा।

जाँच[संपादित करें]

आर्टेमिस 1 के प्रक्षेपण से पहले ओरायन अंतरिक्ष यान के तीन परीक्षण किए गए हैं।

परीक्षण


तारीख और समय जगह क्रू यान सफलता समय अवधि
पैड एबॉर्ट -१ (Pad Abort-1)
  • ६ मई २०१०
व्हाईट सैंड्स LC-32E N/A ओरायन एल ए एस सफल 95 सेकेंड
अन्वेषण उड़ान परीक्षण १ (Exploration Flight Test 1)
  • ५ दिसम्बर २०१४,
  • 12:05 UTC
केप कैनैवेरल SLC-37 N/A
  • डेल्टा IV हैवी
  • (डेल्टा ३६९)
सफल 4 घंटे 24 मिनट
ऐसेंट एबॉर्ट -१ (Ascent Abort-2)
  • २ जुलाई २०१९,
  • 11:00 UTC
केप कैनैवेरल SLC-46 N/A ओरायन एबॉर्ट टेस्ट बूस्टर सफल 3 मिनट 13 सेकेंड

आर्टेमिस १[संपादित करें]

आर्टेमिस_कार्यक्रम की पहली उड़ान, "आर्टेमिस १" एक प्रकार की जाँच होगी जिसमें मानवरहित ओरायन कैप्सूल १० दिन चंद्रमा की परिक्रमा करते हुए बितायेगा।[4] यह चाँद से ६०,००० किलोमीटर (३७,००० मील) की दूरी पर परिक्रमा करने के बाद धरती पर वापस लौटेगा।[5]

आर्टेमिस २[संपादित करें]

कार्यक्रम का पहला क्रू मिशन, आर्टेमिस २, २०२२ में चंद्रमा से ८,९०० किलोमीटर (५,५०० मील) की दूरी पर एक फ्री-रिटर्न फ्लाईबाई पर चार अंतरिक्ष यात्रियों को लॉन्च करेगा।

आर्टेमिस ३[संपादित करें]

आर्टेमिस ३ को एसएलएस ब्लॉक १ रॉकेट पर २०२४ में लॉन्च करने की योजना है। यह कार्यक्रम के पहले चालक दल को चाँद पर पहुंचाने के लिए न्यूनतम गेटवे और पीछे छोड़ने योग्य लैंडर का उपयोग करेगा। यान को चाँद के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र पर उतारने की योजना है।

यान[संपादित करें]

ओरायन क्रू मॉड्यूल
Orion Spacecraft.png

ओरायन[संपादित करें]

यह एक ४ सीटों वाला अंतरिक्ष यान है जो कि चाँद और मंगल पर जाने की क्षमता रखता है।

गेटवे[संपादित करें]

यह (लुनर ऑरबिटल प्लेटफार्म - गेटवे) एक भविष्य का अंतरिक्ष स्टेशन है जो कि चाँद कि परिक्रमा करेगा।

लैंडर[संपादित करें]

यह २०२४ में चाँद के लिये रवाना होगा।

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Artemis".
  2. "Artemis is Our Future".
  3. "What is Artemis? | NASA".
  4. "Foust 2019".
  5. "Hill 2018" (PDF).