आयोनियन सागर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
आयोनियन सागर

एड्रियाटिक सागर के दक्षिण में स्थित आयोनियन सागर या आयोनियाई सागर, भूमध्य सागर की एक इकाई है। इसके पश्चिम में इटली का दक्षिणी भाग जिसमे कैलाब्रिया शामिल है, सिसिली और सलेंतो प्रायद्वीप जबकि पूर्व में दक्षिणपश्चिमी अल्बानिया जिसमें सरांदा और हिमारा शामिल हैं और बड़ी संख्या में यूनानी द्वीप जैसे कि कोर्फु, ज़ांते, केफालोनिया, इथाहा और लेफ्कस आदि स्थित हैं। इन द्वीपों को सामूहिक रूप से आयोनियन द्वीप समूह पुकारा जाता है। यह सागर दुनिया में सबसे अधिक भूकंपीय गतिविधि वाले क्षेत्रों में से एक है।

भूमध्य सागर का सबसे गहरा स्थान केलिप्सो गर्त, जो −5,267 मी॰ (−17,280 फीट), गहरा है आयोनियन सागर में स्थित है, जिसके निर्देशांक 36°34′N 21°8′E / 36.567°N 21.133°E / 36.567; 21.133 है।[1][2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Barale, Vittorio (2008). "The European Marginal and Enclosed Seas: An Overview". In Vittorio Barale and Martin Gade (eds). Remote Sensing of the European Seas. Springer Science+Business Media. पृ॰ 3–22. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-1402067716. LCCN 2007-942178. http://books.google.com/books?id=9B3D5-HBTzkC&pg=PA14&dq=%22Calypso+Deep%22#v=onepage&q=%22Calypso%20Deep%22&f=false. अभिगमन तिथि: 28 अगस्त 2009. 
  2. NCMR - MAP