आभासी सहायक (व्यवसाय)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

एक आभासी सहायक ( जिसे आमतौर पर वीए संक्षिप्त रूप में बोला जाता है या जिसे आभासी ऑफिस सहायक भी कहा जाता है) [1] यह आमतौर पर स्व-रोजगार पर होता है एवं अपने घरेलू कार्यालय से दूर बैठे ग्राहकों को पेशेवर प्रशासनिक, तकनीकी या रचनात्मक (सामाजिक) सहायता प्रदान करता है। [2][3] ये आभासी सहायक कर्मचारी नहीं होते बल्कि एक स्वतंत्र संवेदक के रूप में कार्य करते हैं अत: इनसे कार्य लेने वाले कंपनी या ग्राहक को किसी भी तरह का कर्मचारी से संबंधित करों, बीमा या लाभ का भुगतान नहीं करना होता है। लेकिन इस संदर्भ में उन्हें उन अप्रत्यक्ष व्ययों का भुगतान करना पड़ता हैं जो आभासी सहायक की फीस में शामिल किया गया है।

कंपनी इसके अलावा कार्यालय में अतिरिक्त स्थान उपलब्ध कराने, उपकरण या अन्य आपूर्ति प्रदान करने की समस्या से बचते हैं। इन सहायकों को कंपनी या इनसे सेवा लेने वाले 100% उत्पादक कार्य के लिए भुगतान करते हैं एवं ये अपनी जरूरतों के अनुसार एकल आभासी सहायक या बहु-आभासी सहायक फर्मों के साथ काम कर सकते हैं। आभासी सहायक आमतौर पर अन्य छोटे व्यवसायों के लिए काम करते हैं। [4] लेकिन ये अन्य व्यस्त अधिकारियों की भी सहायता कर सकते हैं। अनुमान लगाया गया है कि दुनिया भर में लगभग 5,000-10,000 या 25,000 आभासी सहायक हैं। यह व्यवसाय "फ्लाई इन फ़्लाई-आउट" स्टाफिंग प्रथाओं के साथ केंद्रीयीकृत अर्थव्यवस्थाओं में बढ़ रहा है। [5][6][7]

इस माध्यम में संचार और डेटा वितरण के सामान्य तरीके में इंटरनेट, ई-मेल और फोन कॉल के सामूहिक वार्तालाप, [8] ऑनलाइन कार्य स्थान एवं फैक्स मशीन शामिल हैं। बहुत सारे आभासी सहायक स्काइप और गूगल वोईस जैसे विडियो कालिंग तकनीक का उपयोग कर रहे हैं। इस व्यवसाय में अनुबंध के आधार पर पेशेवरों से काम लिया जाता हैं एवं यह एक दीर्घकालिक सहयोग मानक है। सहायक प्रशासनिक, कार्यालय प्रबंधक / पर्यवेक्षक, सचिव, कानूनी सहायक, पैरालीगल, कानूनी सचिव, रीयल एस्टेट सहायक और सूचना प्रौद्योगिकी जैसे पदों पर काम करने के लिए आमतौर पर किसी कार्यालय में 5 साल का प्रशासनिक अनुभव की उम्मीद की जाती है।

हाल के वर्षों में आभासी सहायक कई मुख्यधारा के व्यवसायों में अपना योगदान दे रहे हैं एवं वीओआईपी (Voice over Internet Protocol) सेवाओं के आगमन के साथ जिसमे स्काइप शामिल हैं अब यह संभव हो सका हैं की दूर बैठा कोई भी आपके ऑफिस में आने वाले फ़ोन का जवाब दे सकता हैं। इसमें कॉल करने वालों को पता ही नहीं चलेगा की आपके फ़ोन का जवाब कहा से दिया गया। यह कई व्यवसायों को बिना किसी रिसेप्शनिस्ट रखे काम करने की सुविधा प्रदान करता हैं इससे उनके खर्चे में कमी आती हैं एवं इससे उनके व्यवसाय को एक निजी स्पर्श भी मिल जाती है। आभासी सहायक कोई भी हो सकता है या तो यह व्यक्तिगत तौर पर या कंपनी के तौर पर भी चलाया जा सकता हैं जो दूर से (Off Shore )ही एक स्वतंत्र पेशेवर के रूप में काम करता हैं। यह व्यवसाय के साथ-साथ उपभोक्ताओं को भी कई अन्य तरह के उत्पादों और सेवाओं की भी सुविधा प्रदान करती हैं। आभासी उद्योग काफी हद तक बदल गया है क्योंकि इस क्षेत्र में काफी पढ़े लिखे लोगों का आगमन हो रहा है।[9]

आभासी सहायक विभिन्न प्रकार की व्यावसायिक पृष्ठभूमि से आते हैं, लेकिन इनलोगों के ज्यादातर के पास "वास्तविक" (गैर-आभासी) व्यापारिक दुनिया में अर्जित किए गए कई वर्षों का अनुभव है एक पूर्णकालिक या समर्पित आभासी सहायक किसी कंपनी के पर्यवेक्षण (प्रबंधन) के तहत कार्यालय में काम करता है। उसे कंपनी द्वारा कार्यालय की सुविधा और इंटरनेट कनेक्शन के साथ प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाता है। घर पर बैठ कर काम करने वाले आभासी सहायक या तो कार्यालय साझा करने के वातावरण में या अपने घर में काम करते है। सामान्य आभासी सहायक (VA) को कभी-कभी एक ऑनलाइन प्रशासनिक सहायक, ऑनलाइन व्यक्तिगत सहायक या ऑनलाइन बिक्री सहायक कहा जाता है। एक आभासी वेबमास्टर सहायक, आभासी विपणन (Sales) सहायक या फिर आभासी सामग्री लेखक (Content Writer) विशिष्ट पेशेवर होते हैं जिन्हें आम तौर पर कॉर्पोरेट में कार्य करने का अनुभव होता हैं। इसी अनुभव का लाभ उठाने के लिए वे अपने स्वयं के वर्चुअल कार्यालयों की स्थापना कर लेते हैं।

प्रचलित संस्कृति में[संपादित करें]

टिम फेरी के द्वारा २००७ में लिखित किताब “द फोर ऑवर वर्कवीक” (हफ्ते में काम के ४ घंटे) में आभासी सहायक के पात्र ने मुख्य भूमिका निभाई थी। फेरी ने यह दावा किया था उन्होंने अपनी कंपनी चलाने, ईमेल पढने एवं जवाब देने, बिल के भुगतान के लिए कई आभासी सहायको की सहायता ली थी। [10]

इन्हें भी देखे[संपादित करें]

क्राउडसौर्सिंग (आम जनता से चंदा इक्कठा करना) आभासी स्वयंसेवक आभासी कार्यालाय आभासी टीम

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Unattributed (2002). "Real work in virtual offices". International Journal of Productivity and Performance Management. 51 (4/5): 266–268.
  2. Starks, Misty (July–August 2006). "Helping Entrepreneurs, Virtually" (PDF). D-MARS (magazine). अभिगमन तिथि 2008-07-27. पाठ "D-MARS " की उपेक्षा की गयी (मदद)
  3. Youngblood, Sharon. "Virtual help is on the way" (reprint). Inside Tucson Business]]. 15 (52). पृ॰ 11. अभिगमन तिथि 2009-04-19.
  4. Finkelstein, Brad (February–March 2005). "Virtual Assistants A Reality". Broker Magazine. 7 (1): 44–46.
  5. "Outsourcing Comes of Age: The Rise of Collaborative Partnering" (PDF). PricewaterhouseCoopers. अभिगमन तिथि 2008-07-27.
  6. Rose, Barbara (2005-12-21). "Personal Assistants Get a High-tech Makeover". Standard-Times (New Bedford). अभिगमन तिथि 2008-07-29. पाठ "Standard-Times " की उपेक्षा की गयी (मदद)
  7. Meyer, Ann (2006-05-22). "Technology links virtual businesses: Advances spur rise in collaborative work" (reprint). Chicago Tribune. अभिगमन तिथि 2008-08-14.
  8. Johnson, Tory (2007-07-23). "Work-From-Home Tips: Job Opportunities for Everyone". ABC News. अभिगमन तिथि 2008-07-28.
  9. "Virtual Assistant Services". abroadassistant.com. अभिगमन तिथि 2017-08-19.
  10. Maney, Kevin (October 7, 2007). "Tim Ferriss Wants You To Get a Life". Portfolio. अभिगमन तिथि 2008-03-21. "..if you have a virtual assistant, let them go through your email and respond when necessary"

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]