आत्मरक्षा का अधिकार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

आत्मरक्षा का अधिकार (right of self-defense) का अर्थ है कि कोई भी व्यक्ति अपने जीवन की रक्षा करने के लिए युक्तियुक्त (रीजनेबल) बल का उपयोग कर सकता है। कानूनी दृष्टि से, किसी तीसरे व्यक्ति के जीवन की रक्षा करने के लिए युक्तियुक्त बल का प्रयोग भी 'आत्मरक्षा' ही है। कुछ परिस्थितियों में, आत्मरक्षा के लिए आक्रमणकारी पर जानलेवा बल का भी प्रयोग करने का अधिकार है।


सन्दर्भ[संपादित करें]