अहम् ब्रह्मास्मि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अहम् ब्रह्मास्मि भारत के पुरातन हिन्दू शास्त्रोंउपनिषदों में वर्णित चार महावाक्यों में से एक है, जिसका शाब्दिक अर्थ है - "मैं ब्रहम हूँ।" यह यजुर्वेद के वृहदरण्यकोपनिषद से संकलित है।

फिल्म[संपादित करें]

इस महावाक्य पर सिनेमा जगत में संस्कृत भाषा की मुख्यधारा में प्रथम फ़िल्म का निर्माण 2019 में हुआ है, जिसका नाम "अहं ब्रह्मास्मि"ही है। यह भारत के अमर शहीद क्रांतिकारी 'चंद्रशेखर आजाद'के जीवन पर बनी है।इस फ़िल्म की निर्मात्री श्रीमती कामिनी दुबे जी हैं, तथा निर्देशक एवं नायक 'महर्षि आज़ाद' जी हैं। इस फ़िल्म को विश्वपटल पर सराहा और पुरस्कृत किया गया है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]