असमर लोक–संस्कृति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
असमर लोक–संस्कृति  
[[चित्र:|]]
असमर लोक–संस्कृति
लेखक बिरंचिकुमार बरुआ
देश भारत
भाषा असमिया भाषा

असमर लोक–संस्कृति असमिया भाषा के विख्यात साहित्यकार बिरंचिकुमार बरुआ द्वारा रचित एक लोक–संस्कृति का अध्ययन है जिसके लिये उन्हें सन् 1964 में असमिया भाषा के लिए मरणोपरांत साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "अकादमी पुरस्कार". साहित्य अकादमी. मूल से 15 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 सितंबर 2016.