अशोक हॉल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अशोक हॉल भारत की राजधानी दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में एक बड़ा कक्ष है। राष्ट्रपति भवन में 340 कमरे हैं। इनके अलावा इसमें कई विशाल हॉल हैं जैसे दरबार हॉल जिसमें सभी सरकारी आयोजन होते हैं। अशोक हॉल जिसमें औपचारिक बैठकें होती हैं राष्ट्रपति विदेशी राजदूतों के प्रत्यय पत्र स्वीकार करते हैं, बैंक्वेट हॉल में 104 अतिथियों के एक साथ बैठकर भोजन करने की व्यवस्था है। सन 1911 में ब्रिटिश इंडिया की राजधानी कोलकाता से दिल्ली ले जाने का फ़ैसला हुआ। और तब भारत के गवर्नर जनरल के रहने के लिए एक भव्य महल की योजना बनी. इसका डिज़ाइन ब्रिटिश वास्तुकार ऐडविन लुटयैन्स का बनाया हुआ है जो पश्चिमी और पूर्वी शैली का एक सुंदर मिश्रण है। वायसरॉय का यह निवास 1929 में पूरा हुआ और 1931 में इसका उद्घाटन किया गया। आज़ादी के बाद 1950 से यह भारत के राष्ट्रपति का निवास बन गया। भारत का राष्ट्रपति भवन दुनिया का सबसे बड़ा राष्ट्रपति निवास है।