अल्फ़ा ट्राऐंगुलाइ ऑस्ट्रालिस तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
दक्षिण त्रिकोण तारामंडल में अल्फ़ा ट्राऐंगुलाइ ऑस्ट्रालिस बाईं तरफ़ 'α' द्वारा नामांकित तारा है

अल्फ़ा ट्राऐंगुलाइ ऑस्ट्रालिस (α TrA, α Trianguli Australis), जिसका बायर नाम में भी यही है, दक्षिण त्रिकोण तारामंडल में स्थित एक तारा है जो पृथ्वी से दिखने वाले सभी तारों में से ४३वाँ सब से रोशन तारा है। यह हमसे ४२० प्रकाश-वर्ष की दूरी पर स्थित है और पृथ्वी से इसका औसत सापेक्ष कांतिमान (यानि चमक का मैग्निट्यूड) १.९१ है। वैज्ञानिकों को पक्का ज्ञात नहीं है लेकिन इसके दोहरे तारे होने की संभावना है।

अन्य भाषाओं में[संपादित करें]

अल्फ़ा ट्राऐंगुलाइ ऑस्ट्रालिस को अंग्रेज़ी में "ऐट्रिया" (Atria) भी कहा जाता है। यह इसके नाम के तीन शब्दों में से अंग्रेज़ी के 'a', 'tri' और 'a' अक्षरों को जोड़कर बना लघुरूप (अब्रिविएशन) है।

वर्णन[संपादित करें]

अल्फ़ा ट्राऐंगुलाइ ऑस्ट्रालिस एक नारंगी रंग का K2 IIb या K2 IIIa श्रेणी का चमकीला दानव तारा है। इसकी सतह का तापमान लगभग ४,००० कैल्विन है।[1]

खगोलशास्त्रियों ने इस तारे का अध्ययन किया तो इसके वर्णक्रम में इसकी श्रेणी के तारे में जितना नीला रंग होना चाहिए उससे ज़्यादा निकला (हालांकि की आँख से देखने में इसका रंग बहुत नारंगी ही है)। इस से उन्हें शक़ हो गया की यह नीला उसके किसी साथी तारे से आ रहा हो सकता है, यानि की यह एक दोहरा तारा हो सकता है। यदि यह सच है, तो वर्णक्रम के आधार पर वैज्ञानिकों को लगता है कि इसका साथी तारा एक F श्रेणी का बौना तारा होगा जो मुख्य अनुक्रम की स्थिति में नया-नया पहुंचा है।[2] मुख्य तारे की निहित चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) सूरज की २,५०० गुना, इसका द्रव्यमान हमारे सूरज के द्रव्यमान का ६ गुना और इसकी आयु ५० करोड़ साल अनुमानित की गई है।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Antonín Rükl. "Constellation guidebook". Sterling Pub., 1998. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780806942995. http://books.google.com/books?id=you7uTaCg1kC. "... Alpha Trianguli Australis, 1 .9 mag, is an orange giant of spectral class K2 and surface temperature of some 4000 K. The star is situated at a distance of about 415 light-years ..." 
  2. T.R. Ayres. "Alpha Trianguli Australis (K2 II-III) - Hybrid or composite?". The American Astronomical Society, 1985. http://adsabs.harvard.edu/full/1985ApJ...291L...7A. "... α Trianguli Australis exhibits a far-UV continuum which is considerably bluer than would be expected of a star of its optical colors, suggesting the presence of a previously unrecognized companion. If the К type primary is as luminous as indicated by the widths of its Ca II and Ha lines, the companion could be an early F type dwarf that only recently has arrived on the main sequence ..."