अमृथंगमया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अमृथंगमया (मलयालम: അമൃതംഗമയ) भारत से मलयालम भाषा की सर्वाधिक प्रतिभावान कवयित्रियों में से एक नालापत बालमणि अम्मा का काव्य संग्रह है, जो 1978 में पहली बार मलयालम भाषा में प्रकाशित हुआ।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. नालापत बालमणि अम्मा (1978). അമൃതംഗമയ [अमृथंगमया] (मलयालम में). मातृभूमि बुक्स.