अमीन पीर दरगाह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अमीन पीर दर्गाह - Ameen Peer Dargah
निर्देशांक: 14°29′06″N 78°49′27″E / 14.485023°N 78.824265°E / 14.485023; 78.824265निर्देशांक: 14°29′06″N 78°49′27″E / 14.485023°N 78.824265°E / 14.485023; 78.824265
स्थान कडपा, आंध्र प्रदेश, भारत
स्थापित 1683
शाखा/परंपरा चिष्तिया
स्वामित्व ख्वाजा सय्यद शाह आरिफ़ुल्लाह हुसैनी (सज्जादा नशीन)
वास्तु संबंधित सूचनायें
वास्तुकार Pilgrimage
वास्तु शैली Islamic architecture

अमीन पीर दर्गाह : (امین پیر درگاہ)(అమీన్ పీర్ దర్గా - పెద్ద దర్గా) एक सूफ़ी आस्ताना और दर्गाह है।यह दर्गाह, भारत के राज्य आन्ध्रप्रदेश के कडपा शहर में है। यहां हिन्दू मुस्लिम सभी समुदाय के लोग संदर्शन के लिये आते हैं और यह स्थल हिन्दू मुस्लिम संगम क्षेत्र भी कहलाता है।[1]

 इस दर्गाह को आस्तान-ए-मख्दूम इलही भी कहा जाता है जो दर्गाह के काम्प्लेक्स में है।

सूफ़ी बुज़र्ग की जीवनी[संपादित करें]

आस्ताने में सूफ़ी संस्कृती[संपादित करें]

यहां पर आने वाले सभी संदर्शक सभी धर्मों के पाये जाते हैं। इनके शिश्यगण भी सभी धर्मों से हैं। इन का खान्दान भगवा रंग या घेरू रंग के कपडे पहनते हैं। शागिर्द या मुरीद घेरू रंग की टोपी पहनते हैं। 

उर्स उत्सव[संपादित करें]

यहां पर उर्स हर साल जमादिउल ऊला के १४वीं तारीख को मनाया जाता है।

संदर्शक[संपादित करें]

भारत के कई प्रांतों से यहां दर्शक आते हैं और ज़ियारत करते हैं। प्रमुख व्यक्तियों में, श्रीमती इन्दिरा गांधी, नीलम संजीव रेड्डी, ए.आर.रहमान इत्यादी हैं

यह भी देखिये[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कडियां[संपादित करें]