अबू सईद गर्देजी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अबू सईद गर्देजी: गार्ज़ी या गुरदेज़ी (1061 ईस्वी में मृत्यु हो गई थी) (फारसी: ابوسعید عبدالحی بن ضحاک بن محمود گردیزی) एक फारसी मुस्लिमग्राफर और 11 वीं शताब्दी की शुरुआत में गार्डेज़ (आधुनिक अफगानिस्तान) से इतिहासकार थे।[1].[2] इन्होंने जैन अल-अखबार को गजनाविद साम्राज्य के सुल्तान अब्दुल-रशीद की अदालत में लिखा था।.[3] फारसी में लिखे गए गार्ज़ी का कार्य मध्य एशिया और पूर्वी फारस और हंगरी का इस्लामी इतिहास है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Bosworth, C. Edmund. "GARDĪZĪ, ABŪ SAʿĪD ʿABD-al-ḤAYY". ENCYCLOPÆDIA IRANICA. अभिगमन तिथि 2 December 2016. GARDĪZĪ, ABŪ SAʿĪD ʿABD-al-ḤAYY b. Żaḥḥāk b. Maḥmūd, Persian historian of the early 5th/11th century.
  2. Gardizi, W. Barthold, The Encyclopaedia of Islam, Vol.II, ed. B. Lewis, C. Pellat and J. Schacht, (Brill, 1991), p. 978.
  3. Historiography in the Sadduzai Era:Language and Narration, Senzil Nawid, Literacy in the Persianate World: Writing and the Social Order, ed. Brian Spooner and William Hanaway, (University of Pennsylvania Press, 2012), 235.