अफ़्रीका के पर्यटन स्थल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

केप टाउन, दक्षिण अफ्रीका[संपादित करें]

केप टाउन दक्षिण अफ्रीका का सबसे पुराना शहर है। इस यहां की सांस्‍कृतिक राजधानी भी कहा जाता है। इसकी स्‍थापना 1652 में जैन वैन रीबीक ने की थी। इसे विश्‍व के सबसे खूबसूरत शहरों में से एक माना जाता है। समुद्र के किनारे बसा यह शहर यहां आने वाले पर्यटकों को सुकून पहुंचाता है और सभी तरह की सुविधाएं मुहैया कराता है। टेबल माउंटेन पर केबल कार से शहर का नजारा रोमांचित कर देता है। फेरी से रॉब्‍बन द्वीप का सफर हो या कर्स्‍टनबोश राष्‍ट्रीय जैव उद्यान में चाय का आनंद हो अथवा कैसल ऑफ गुड होप की सैर हो, सभी कुछ आकर्षित करता है। रोमांचक खेलों के शौकीन हा‍इकिंग का मजा उठा सकते हैं। यहां पर क्लिफटन और केंप बे जैसे खूबसूरत समुद्री तट भी हैं।

खरीदारी करने के लिए विक्‍टोरिया और एलफ्रेड वॉटरफ्रंट, कैवेंडिश स्‍क्‍वैयर और केनेल वॉक का रुख किया जा सकता है। रात के समय लॉन्‍ग स्‍ट्रीट में बहुत रौनक रहती है। यहां का सीफूड भी बहुत मशहूर है।

क्रुजर राष्‍ट्रीय उद्यान, दक्षिण अफ्रीका[संपादित करें]

2 मिलियन हैक्‍टेयर में फैला यह राष्‍ट्रीय उद्यान केवल दक्षिण अफ्रीका का ही नहीं बल्कि समूचे अफ्रीका महाद्वीप का सबसे प्रसिद्ध राष्‍ट्रीय उद्यान है। इस उद्यान की स्‍थापना 1898 में यहां के वन्‍य जीवन को सुरक्षित रखने के उद्देश्‍य से की गई थी। आज यह उद्यान पर्यावरण प्रबंधन तकनीक और नीतियों का सबसे अच्‍छा उदाहरण है।

क्रुजर राष्‍ट्रीय उद्यान में पेड़ों की 336, मछलियों की 49, पक्षियों की 147 और जंतुओं की करीब 147 प्रजातियां पाई जाती हैं। यह स्‍थान केवल वन्‍य जीवों के कारण की नहीं जाना जाता। यहां पर पत्‍थरों पर की गई चित्रकारी और मसोरिनी व थुलामेला जैसे प्राचीन स्‍थानों के कारण भी दूर दूर से लोग इस जगह आते हैं। ये सब स्‍थान उन सब संस्‍कृतियों, लोगों और घटनाओं की झलक प्रस्‍तुत करते हैं जिनका क्रुजर राष्‍ट्रीय पार्क के इतिहास में योगदान रहा है। ये सभी इस उद्यान की प्राकृतिक संपदा का महत्‍वपूर्ण हिस्‍सा है।

विक्‍टोरिया फॉल्‍स, जिम्‍बॉव्‍वे[संपादित करें]

1708 मीटर चौड़ा यह झरना विश्‍व का सबसे बड़ा प्राकृतिक झरना है। स्‍थानीय लोग इसे मूसी-ओआ-तुन्‍या कहते हैं। यह विश्‍व के सबसे सुंदर प्राकृतिक अजूबों में से एक है। इस फॉल के आसपास का क्षेत्र राष्‍ट्रीय पार्क घोषित किया जा चुका है और यह विश्‍व धरोहर की सूची में शामिल है। ऐसा इस क्षेत्र में व्‍यवसायिक गतिविधियों के अत्‍यधिक प्रसार को रोकने के उद्देश्‍य से किया गया है। यूं तो यह स्‍थान हमेशा ही आकर्षक लगता है लेकिन फरवरी में वर्षा के बाद इसका प्रवार और भी तेज हो जाता है। यहां पर पानी के तेज बहाव में राफ्टिंग का मजा उछाया जा सकता है। इसके अलावा घुड़सवारी और फिशिंग भी की आ सकती है।

चोबे राष्‍ट्रीय उद्यान[संपादित करें]

20566 वर्ग किलोमीटर में फैला यह राष्‍ट्रीय उद्यान बोत्‍सवाना का दूसरा सबसे बड़ा राष्‍ट्रीय उद्यान है। यहां की सफारी बहुत की मशहूर है जो अफ्रीका से समस्‍त वन्‍य जीवन के दर्शन कराती है। यहां का मुख्‍य आकर्षण यहां बड़ी संख्‍या में पाए जाने वाले हाथी हैं। ये हाथी प्रवासी हैं जो गर्मियों में चोबे और लिंयंती नदियों के आस-पास रहते हैं और बारिश के मौसम में पार्क के दक्षिणपूर्वी हिस्‍से में चले जाते हैं।

ओकवांगो डेल्‍टा[संपादित करें]

ओकवांगो डेल्‍टा विश्‍व का सबसे बड़ा इनलैंड डेल्‍टा है। इस डेल्‍टा के बीव में पड़ने वाले द्वीपों के कारण यहां की जलवायु में भिन्‍नता देखने को मिलती है। इस वजह से पक्षियों की बहुत सारी प्रजातियां पाई जाती हैं। यहां के साफ पानी में अनेक प्रकार की मछलियां देखी जा सकती हैं। इस स्‍थान को प‍क्षी प्रेमियों का स्‍वर्ग भी कहा जाता है। अगस्‍त के महीने में इस डेल्‍टा की खूबसूरती अपने चरम पर होती है। इस दौरान यहां के पानी की गहराई सबसे ज्‍यादा होती है। मार्च के महीने में यहां की हरियाली देखते ही बनती है। यहां तक केवल वायु मार्ग से ही पहुंचा जा सकता है।