अफरइया

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अफरइया (अफरिया) (अन्य उच्चारण- अफ़्फरिया, फरिया या फरइया) यदुवंशी अहीर जाति का एक कुल (गोत्र) है।[1][2] राजपूताना गजेटियर के अनुसार रेवाड़ी के अफरिया अहीर जाति के यदु वंश से हैं।[3] रेवाड़ी राज्य पर अफरिया कुल ने ही शासन किया है।[4] रेवाड़ी के राजा राव नंदराम इसी गोत्र के थे।[5][6][7]

इतिहास[संपादित करें]

18वीं शताब्दी के प्रारम्भ में, अहीर सेनापति राव नंदराम ने रेवाड़ी राज्य की स्थापना की थी। उन्हें रेवाड़ी के आस पास 360 गावों की यह जागीर व चौधरी का खिताब प्राप्त हुआ था। उस समय चौधरी का खिताब सैन्य शक्ति का सूचक हुआ करता था। [8]

अफरिया राजस्थान राज्य में अलवर के तिजारा नामक स्थान से हरियाणा के रेवाड़ी क्षेत्र में आकार बसे थे। राव तुलाराम सिंह व उनके वंशजों का गोत्र अफरिया है।[9] हेनरी एम॰ इलियट के वृतांतों के अनुसार- सभी प्रान्तों के अहीर अपनी मूल उत्पत्ति मथुरा या उसके पश्चिम के क्षेत्र से मानते हैं। अफरिया अहीर जाति का एक महत्वपूर्ण समुदाय है।[10][11] मुगल शासन काल में, अफरिया, कोसलिया, व खोसा राजशाही अहीर वंश थे।[12] राव नंदराम रेवाड़ी के यदुवंशी अहीरों के अफरिया परिवार में जन्मे थे, जिन्होंने अपनी अपार सैन्य शक्ति व विस्तृत उपजाऊ जमीन के माध्यम से अपनी प्रभुता सिद्ध की थी।[13]

दिल्ली में[संपादित करें]

दिल्ली में अफरिया गोत्र के 18 गांव हैं जिन्हे सुरेड़ा सतरा खांप भी कहा जाता है। कुछ गाँव इस प्रकार हैं- खेड़ा डाबर, जफरपुर कलाँ, खदखड़ी नाहर, खदखड़ी जाट्मल, दौलत पुर, घुमनहेड़ा, खेरा, पंडवाला,हसनपुर, झुलझुली गांव आदि।

महत्वपूर्ण व्यक्तित्व[संपादित करें]

  • राव नंदराम
  • राव गोपाल देव अहीर , आभीर साम्राज्य के राजा
  • राव तुलाराम सिंह, अहीरवाल नरेश, 1857 क्रांति के स्वाधीनता सेनानी

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ सूत्र[संपादित करें]

  1. Lucia Michelutti (2008). The Vernacularisation of Democracy: Politics, Caste, and Religion in India. Routledge, 2008 Original from the University of California. पृ॰ 71. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780415467322.
  2. Sir Henry Miers Elliot Editor John Beames (2008). Memoirs on the History, Folk-lore, and Distribution of the Races of the North Western Provinces of India: Being an Amplified Edition of the Original Supplemental Glossary of Indian Terms, Volume 1. Trübner & Company, 1869 Original from Harvard University. पृ॰ 8.
  3. Rajputana (1880). The Rajputana gazetteers.
  4. Singh Yadav, J. N (1992). Yadavas through the ages, from ancient period to date. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788185616032.
  5. Rao, M. S. A (1979-05-01). Social movements and social transformation.
  6. Fox, Richard Gabriel (1977). Realm and Region in Traditional India. पपृ॰ 80–84. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780916994129.
  7. Realm and region in traditional India
  8. Lucia Michelutti (2002). "Sons of Krishna: the politics of Yadav community formation in a North Indian town" (PDF). PhD Thesis Social Anthropology. London School of Economics and Political Science University of London. पृ॰ 83. मूल से 21 मई 2015 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 31 May 2015.
  9. "संग्रहीत प्रति" (PDF). मूल (PDF) से 20 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 9 अगस्त 2016.
  10. Henry M. Elliot (1869). Memoirs on the History, Folk-Lore, and Distribution of the Races of the North Western Provinces of India; being an amplified Edition of the original: Supplemental Glossary of India Terms By the late Henry M. Elliot. Edited, revised, and re-arranged by John Beames. In 2 Volumes. Trübner & Company, Original from the Bavarian State Library. पपृ॰ 4–8.
  11. Sir Henry Miers Elliot, John Beames (1978). History, Folk-lore & Culture of the Races of North Western Provinces of India, Volume 1 History, Folk-lore & Culture of the Races of North Western Provinces of India, Sir Henry Miers Elliot. Sumit Publications, 1978 Original from the University of Virginia. पपृ॰ 4, 8.
  12. Lucia Michelutti (2008). The Vernacularisation of Democracy: Politics, Caste, and Religion in India Volume 1 of Exploring the political in South Asia. Routledge, Original from the University of California. पृ॰ 71. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780415467322.
  13. Richard Gabriel Fox (1977). Realm and Region in Traditional India Issue 14 of Monograph and occasional papers series - Duke University. Program in Comparative Studies on Southern Asia Issue 14 of Monograph and occasional papers series, Duke University Program in Comparative Studies on Southern Asia. Duke University, Program in Comparative Studies on Southern Asia, 1977 Original from University of Minnesota. पपृ॰ 80–84. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780916994129.