अनुराधा टी॰ के॰

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अनुराधा टी.के. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) में एक भारतीय वैज्ञानिक और परियोजना निदेशक हैं। वह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन में वरिष्ठ महिला वैज्ञानिक हैं, जो १९८२ में अंतरिक्ष एजेंसी में शामिल हो गए थे। वह एक उपग्रह प्रोजेक्ट डायरेक्टर बनने वाली पहली महिला है भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की।

अनुराधा टी.के.

जीवनी[संपादित करें]

अनुराधा टी.के. जन्म बेंगलुरु, कर्नाटक में हुआ था।[1] उन्होंने बैंगलोर में यूनिवर्सिटी विश्वेश्वराय कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में इलेक्ट्रॉनिक्स में स्नातक की उपाधि प्राप्त की।[2] उन्होंने १५ जुलाई, २०११ को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से अंतरिक्ष में जीएसएटी -१२ उपग्रह को लॉन्च करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।[3][4][5] परियोजना निदेशक के रूप में, उन्होंने जीएसएटी -१०, जीएसएटी -९, जीएसएटी -१७ और जीएसएटी -१८ संचार उपग्रहों के प्रक्षेपण का भी निरीक्षण किया। उनकी विशेषता उपग्रह जांच प्रणाली है जो अंतरिक्ष में एक बार उपग्रह चला जय तो उनके प्रदर्शन पर नज़र रखती है।

पुरस्कार[संपादित करें]

  • अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में सेवाओं के लिए भारत की अंतरिक्ष विज्ञान सोसायटी द्वारा 2003 में स्वर्ण पदक का पुरस्कार
  • २०११ आईआईआई के राष्ट्रीय डिजाइन और अनुसंधान फोरम (एनडीआरएफ) द्वारा सुमन शर्मा पुरस्कार
  • २०१२ एशियाई संचार अंतरिक्ष यान के लिए एएसआई- इसरो मेरिट पुरस्कार
  • जीएसएटी -१२ की प्राप्ति के लिए टीम के नेता होने के लिए २०१२ के इसरो टीम अवार्ड २०१२[6]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Reaching out to the skies". Indian Space Station (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 13 March 2017.
  2. "T K ANURADHA". Jeppiaar Technologies. मूल से 21 February 2014 को पुरालेखित.
  3. "ISRO successfully launches latest communication satellite GSAT-12 - The Economic Times". Economictimes.indiatimes.com. 2011-07-15. अभिगमन तिथि 2017-03-08.
  4. "ISRO banks on womanpower for GSAT-12". India Today. अभिगमन तिथि 13 March 2017.
  5. "Only the sky is the limit". Ministry of External Affairs (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 13 March 2017.
  6. "Smt T K Anuradha – IEEE WIE Global Summit 2016". wiesummit.ieeer10.org (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 2017-03-04.