अनुप्रस्थ तरंग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अनुप्रस्थ तरंग उस तरंग को कहते हैं जिसके दोलन तरंग संचरण की दिशा के लम्बवत होते हैं।[1] उदाहरण के लिये, विद्युतचुम्बकीय तरंगें अनुप्रस्थ तरंगे होतीं हैं।

अनुप्रस्थ तरंग

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]