अनामिका (1973 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अनामिका
अनामिका.jpg
अनामिका का पोस्टर
निर्देशक रघुनाथ झलानी
निर्माता ताहिर हुसैन
लेखक मदन जोशी (संवाद)
पटकथा शशि भूषण
कहानी सुरेंद्र प्रकाश
अभिनेता संजीव कुमार
जया भादुड़ी
संगीतकार राहुल देव बर्मन
मजरूह सुलतानपुरी (गीत)
छायाकार मुनीर खाँ
प्रदर्शन तिथि(याँ) 1973
देश भारत
भाषा हिन्दी

अनामिका 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसका निर्देशन रघुनाथ झलानी ने किया और मुख्य भूमिकाओं में संजीव कुमार और जया भादुड़ी हैं। यह फिल्म संगीतकार राहुल देव बर्मन और गीतकार मजरुह सुल्तानपुरी के यादगार गीतों के साथ, जैसे किशोर कुमार द्वारा गाया गया "मेरी भीगी भीगी सी", आशा भोंसले द्वारा गाया गया "आज की रात" और लता मंगेशकर द्वारा गाया गया "बाहों में चले आओ" सफल रही।

संक्षेप[संपादित करें]

देवेंद्र दत्त (संजीव कुमार) नामक लेखक अपने चाचा (ए के हंगल) के साथ रहता है। एक रात जब वह अपने चाचा व सचिव हनुमान सिंह (असरानी) के साथ घर आते चलती कार से एक औरत (जया भादुरी) को गिरते देख उसे अपने घर लाता है। अगली सुबह वह अपने को देवेंद्र पत्नी कहती है। चाचा उसे अनामिका नाम दिए उसके ठीक होने तक घर में रखने की देवेंद्र को सलाह देते हैं। कुछ ही दिनों में देवेंद्र अनामिका से प्रेम करने लगता है। जब वह उसकी पहचान जानने की कोशिश करता है तो उसके कई रूप दिखते हैं, जैसे अर्चना नामक एक विवाहिता, कंचन नामक वेश्या इत्यादि| जैसे अचानक आई थी वैसे ही एक दिन अचानक वह घरसे निकल जाती है। कुछ दिन बाद एक पार्टी में उसकी अनामिका से मुलाक़ात होती है और वह देवेन्द्र को पहचानने से नकारती है। जैसे वह उसकी पहचान जानने का प्रयत्न करता है वैसे उसका रहस्य उलझता जाता है। आगे की कहानी में दिखाया गया है कैसे देवेन्द्र अनामिका का वास्तविकता पहचान पाता है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

दल[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत मजरुह सुल्तानपुरी द्वारा लिखित; सारा संगीत राहुल देव बर्मन द्वारा रचित।

गाने
क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."आज की रात"आशा भोंसले6:03
2."जाऊँ तो कहाँ"आशा भोंसले3:32
3."बाँहों में चले आओ"लता मंगेशकर4:01
4."मेरी भीगी भीगी सी"किशोर कुमार4:05
5."लोगों न मारो"आशा भोसले4:33

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. बिनाका गीत माला की 1973 वार्षिक सूची

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]