अनपेक्षित परिणाम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
१९वीं शताब्दी के आरम्भ में शिकार के लिये ऑस्ट्रेलिया में ख़रगोश लाये गये। वहाँ कोई भी जानवर इन्हें नहीं खाता था इसलिए अनपेक्षित परिणाम-स्वरूप इनकी संख्या बढ़कर लाखों में पहुँच गई और वे हर स्थान पर वनस्पति खाने लगे। इस से अन्य प्राणियों के आहार पर असर पड़ा और कुछ स्थानों पर (जैसे कि इस चित्र में) वनस्पति-नाश होने से टीले ढह गये हैं।

समाजशास्त्र में अनपेक्षित परिणाम (unintended consequences) ऐसे परिणाम होते हैं जो किसी ध्येय-प्राप्ति के लिए उद्देश्यपूर्ण ढंग से करे गये किसी कार्य में चाहे गये परिणामों से अलग हों।[1]

समाज व लोकनीति में इसके कई उदाहरण मिलते हैं, मसलन अमेरिकी नगर सैन फ़्रैन्सिस्को में निर्धन लोगों की सहायता के लिए मकान-किराये बढ़ाने पर लगाम दे दी गई। परिणाम-स्वरूप मकान मालिकों के लिए किराए के फ़्लैट बनाने की बजाय बिक्री के लिए घर बनाना अधिक लाभदायक हो गया और शहर में किराये के लिये उपलब्ध मकानों की संख्या घटने लगी। जो नीति ग़रीब-कल्याण के लिए बनी थी उसका अनपेक्षित परिणाम ग़रीबों के लिये आर्थिक कठिनाई बढ़ाना हो गया।[2]

कभी-कभी अनपेक्षित परिणाम लाभदायक भी हो सकते हैं। उदाहरण के लिए उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच में शत्रुता के कारण उनकी सीमा पर एक ४ किमी चौड़ी पट्टी छोड़ दी गई है। इसमें प्रवेश करने पर सख़्त रोकथाम की जाती है, जिस कारण से इसके अधिकांश भाग में प्रकृति अपने मूल रूप में चली गई है और वन्य जीवन फल-फूल रहा है।[3]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. John Locke, The Works of John Locke in Nine Volumes, (London: Rivington, 1824 12th ed.). Vol. 4.
  2. "How the Rich Get Richer, Rental Edition," ​Scott James, 17 Feb 2012, New York Times, "... an unintended consequence of rent control is becoming more prevalent: people of relatively modest means subsidizing the housing of the extraordinarily wealthy ..."
  3. "Pictures of Wildlife in Korea's Demilitarized Zone," August 2013, National Geographic Magazine, "... A border that severed the country of Korea into North and South 60 years ago has become a haven to some of the most endangered animals in Asia ..."