अनंगपाल तोमर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अनंगपाल दिल्ली के तोमर वंश के संस्थापक थे।,पांडव अर्जुन वंश के तोमर राजपूत अनंगपाल सिंह तोमर -प्रथम ने १०६० ईस्वी में तोमर राजवंशदिल्ली के लालकिला की स्थापना की थी।

बिल्हण देव की मुद्रा प्राप्त हुई है उसपर श्री जा +जाउल लिखा हुआ है इनके बाद इनके पुत्र वासुदेव गद्दी पर बैठे इनके पुत्र द्रुपद ने असीगढ़ वर्तमान के हांसी की स्थापना की यहाँ पर इन्होने शस्त्रागार स्थापित किया और एक दुर्ग का निर्माण भी करवाया इनके पुत्र अचलराज को अछनेरा की जागीरी मिली सिकंदर लोधी के समय अचलराज के वंशज छत्तीसगढ़ के जंगलो में चले गए ।राजा बिल्हण देव ने अनंगपुर धाम की स्थापना की जो तोमर वंश की राजधानी भी रही इनके समय पर रणथम्भौर पर नागिल /नाग का था जो दिल्ली के राजा बिल्हण देव के निकट रिश्तेदार थे भाटो के अनुसार इनका राजा रणमल सिंह वीर था उसके साथ बिल्हण देव ने अपनी पुत्री का विवाह किया इन्होने मौर 9,730को कचौरा की जागीरी प्रदान की।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]