अनंगपाल तोमर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अनंगपाल दिल्ली के तोमर वंश के संस्थापक राजा थे। इन्होंने सन ७३६ ईस्वी में इस तोमर राजवंश की दिल्ली के लालकोट में स्थापना की थी। बारहवी सदी के मध्य मे

तोमरो को अजमेर के चौहानौ ( जिन्हे चाहमान नाम से भी जाना जाता है ) ने परास्त किया। तोमरो और चौहानौ के राज्यकाल मे ही दिल्ली वाणिज्य का एक महत्वपूर्ण केंद्र बन गया। इस शहर मे बहुत सारे समृद्धिशाली जैन व्यापारी रहते थे जिन्होंने अनेक मंदिरो का निर्माण करवाया। यहा देेेेेहली वाल कहे जाने वाले सिक्के भी ढाले जाते थे जो काफी प्रचलन मे थे।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]