अधिवृषण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अधिवृषण
Epididymis-KDS.jpg
वयस्क मानव का वृषण, अधिवृषण के साथ: A. अधिवृषण शीर्ष, B. अधिवृषण का मुख्य भाग, C. अधिवृष्ण पुच्छ, तथा D. शुक्रवाहिका
Gray1148.png
The right testis, exposed by laying open the tunica vaginalis.
विवरण
लातिनी Epididymis
अग्रगामी Wolffian duct
Pampiniform plexus
अभिज्ञापक
टी ए A09.3.02.001
एफ़ एम ए 18255
शरीररचना परिभाषिकी

अधिवृषण या एपिडिडीमिस (epididymis) पुरुष जनन तंत्र की वह नलिका है जो अण्डकोश (testicle) को शुक्रवाहिका (vas deferens) से जोड़ती है। अधिवृषण सभी नर सरीसृपों, पक्षियों, और स्तनधारियों में पाया जाता है। वयस्क पुरुषों में यह ६ से ७ मीटर लम्बी, पतली, पास-पास कुण्डलित एकल नलिका होती है।[1]

संरचना[संपादित करें]

अधिवृषण के तीन भाग होते हैं-

  • मुख्य भाग (लातिन : corpus). This has an intermediate epithelium and smooth muscle thickness[2].
  • पुच्छ (लातिन : cauda). This has the thinnest epithelium of the three regions and the greatest quantity of smooth muscle[2].

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Kim, Howard H.; Goldstein, Marc (2010). "Chapter 53: Anatomy of the epididymis, vas deferens, and seminal vesicle". प्रकाशित Graham, Sam D.; Keane, Thomas E.; Glenn, James F. (संपा॰). Glenn's urological surgery (7th संस्करण). Philadelphia: Lippincott Williams & Wilkins. पृ॰ 356. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-7817-9141-0.
  2. Bacha, William; Bacha, Linda (2012). Color Atlas of Veterinary Histology. Wiley-Blackwell. पृ॰ 226. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0470958510.