अधिनियमन खंड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

एक अधिनियमन खंड, या अधिनियमित सूत्र, एक छोटा वाक्यांश होता है जो विधायिका द्वारा अधिनियमित कानून के मुख्य प्रावधानों का परिचय देता है। यह आमतौर पर विधायी अधिकार के स्रोत का वर्णन करता है जिससे वह कानून अपने अधिकार प्राप्त करने का दावा करता हो। अर्थात संसदीय अधिनियमों में संप्रभु के अधिकार का उल्लेख राष्ट्रमंडल देशों के विधायी संस्थानों द्वारा पारित अधिनियमों के घोषणापत्रों में देखा जा सकते है जिनके शुरूआती वाक्यांश इस बात का उल्लेख करते हैं की उक्त अधिनियम किसके अधिकार से पारित किया जा रहा है। इस शुरूआती वाक्यांश को अधिनियम खंड कहा जाता है। [1]

कई देशों में, एक अधिनियमित सूत्र आवश्यक नहीं माना जाता है।

उदाहरण[संपादित करें]

वेस्टमिंस्टर शैली[संपादित करें]

वेस्टमिंस्टर प्रणाली का पालन करने वाले देशों में विधान के अधिनिर्णय में संप्रभु के स्थान के कारण, संसद के अधिनियम के अधिनियमन खंड में उनका या उनके साथ-साथ संसद के सदनों का उल्लेख हो सकता है। उदाहरण के लिए ब्रिटिश अधिनियम का घोषणापत्र इस प्रकार शुरू होता है:"महारानी की सबसे उत्कृष्ट महिमा द्वारा, लॉर्ड्स आध्यात्मिक और लौकिक एवं कॉमन्स की सलाह और सहमति से, इस वर्तमान एकत्रित संसद द्वारा, उनकी अधिकार से इस प्रकार अधिनियमित हो कि ... "[2] इसी तरह, कनाडाई संसद के अधिनियम में आम तौर पर निम्नलिखित अधिनियमितियां शामिल होती हैं: "अब अतः, महामहिम महारानी, कनाडा के सीनेट और हाउस ऑफ कॉमन्स की सलाह और सहमति से, निम्नानुसार अधिनियमित करती हैं की ..."[3] बहरहाल, ऑस्ट्रेलियाई संसद के विधानों में, यह मानते हुए की संप्रभु संसद का ही एक हिस्सा है, अतः १९०९ के बाद के विधानों में संप्रभु के अधिकार का उल्लेख अलग से नहीं किया जाता, अतः ऑस्ट्रेलिया में संसदीय अधिनियमों के अधिनियमन खंड इस प्रकार होते हैं: "ऑस्ट्रेलिया की संसद यह अधिनियमित करती है की ..."

इसके अलावा क्यूबेक, जो वेस्टमिंस्टर शैली के अधिनियमन खंड का उपयोग नहीं करता है। वह इसके बजाय प्रांतीय क़ानून खंड का उपयोग इस प्रकार करते हैं: "क्यूबेक की संसद निम्नानुसार लागू करती है: ..."।[4] एक विशिष्टता स्कॉटलैंड की संसद के विधानों में भी देखने को मिलता है, जिसकी विधायी शक्तियाँ ब्रिटिश संसद से अवक्रमित हो कर आयी हैं, संप्रभु से प्रत्यक्ष रूप से नहीं। यद्यपि इसके अधिनियमों के लिए शाही स्वीकृति की आवश्यकता होती है मगर स्कॉटिश संसद का अधिकार यूनाइटेड किंगडम की संसद से प्रत्यायोजित किया जाता है, और "ससंसाद (स्कॉटिश) महारानी" के समकक्ष धारणा स्कॉटिश विधिशास्त्र में नहीं है अतः स्कॉटिश संसद के अधिनियम ब्रिटिश संसदीय शैली के लंबे शीर्षक के बजाय निम्नलिखित पाठ का उपयोग करता है: "स्कॉटिश संसद के इस अधिनियम का विधेयक संसद द्वारा (तारीख) को पारित किया गया था और इस पर (तारीख) पर शाही स्वीकृति प्राप्त हुई थी: ..."।[5]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. मरियम वेबस्टर शब्दकोष (२० मई २०२०). "enacting clause". मूल से 21 सितंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 20 मई 2020.
  2. "Academies Act 2010", en:legislation.gov.uk, राष्ट्रीय ग्रंथागार (यूके), 2010 c. 32
  3. Fair and Efficient Criminal Trials Act, S.C. 2011, c. 16
  4. An Act respecting the sectoral parameters of certain fiscal measures, S.Q. 2012, c. 1
  5. स्कोटिश संसद (नवम्बर 16, 2005). "Licensing (Scotland) Act 2005". मूल से 11 अगस्त 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि जुलाई 22, 2012.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

  • findlaw.com (मई २०२०). "enacting clause". मूल से 18 मार्च 2018 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 20 मई 2020.