अग्निशामक यंत्र

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक अग्निशामक यंत्र

अग्निशमन यंत्र (Fire Extinguisher) एक आग से बचाव का एक युक्ति है जिसकी सहायता से छोटे अकार की आग को बुझाया जा सकता है या उसे नियंत्रण में रखा जा सकता है। यह प्राय: आपातकालीन स्थितियों में उपयोग किया जाता है। किन्तु यह ऐसी आग के बुझाने या नियंत्रण के लिये प्रयुक्त नहीं होता जो बहुत विकराल रूप ले चूकी हो। प्राय: अग्निशमन यंत्र में एक बेलनाकार दाब-पात्र (pressure vessel) होता है जिसमें एक ऐसा पदार्थ भरा रहता है जिसे छोड़ने पर आग बुझाने में सहायक होता है। वह एक उपयोगी साधन है

प्रकार[संपादित करें]

मुख्य रूप से अग्निशमन यंत्र दो तरह के होते हैं - भण्डारित दाब (stored pressure) वाले तथा उत्पादित दाब (generated pressure) वाले।

अग्निशमन यंत्र के प्रकार-

1- वाटर टाईप - इसका उपयोग ठोस प्रकार की आग बुझाने के लिए किया जाता है जैसे की लकड़ी, कागज, गत्ता आदि।
2- मैकेनिकल फोम टाईप - इसका उपयोग तेल से लगने वाली आग बुझाने के लिए किया जाता है जैसे की पेट्रोल, डीज़ल, थिनर ,पेंट आदि से लगने वाली आग।
3- ए. बी. सी. टाईप - इसका उपयोग ABC तीनो प्रकार की आग के लिए किया जाता है। (SOLID , LIQUID , GAS)
4- कार्बन डाई ऑक्साइड टाईप - इसका उपयोग बिजली की आग के लिए किया जाता है और गैस एवं तेल से लगने आग के लिए किया जाता है।
5- क्लीन एजेंट टाईप - इसका उपयोग कंप्यूटर, सर्वर एवं इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरणों की आग बुझाने के लिए किया जाता है।
6- वाटर मिस्ट टाईप - इसका उपयोग खाद्य पदार्थ एवं ठोस प्रकार की आग बुझाने के लिए किया जाता है जैसे की खाद्य सामग्री, लकड़ी, कागज आदि।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]