अंजुम हसन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अंजुम हसन
Anjum Hasan 20160116-DSC 5781.jpg
जन्मशिलांग, मेघालय, भारत
व्यवसायबुक्स एडिटर, कैरेवन पत्रिका
जालस्थल
www.anjumhasan.com

अंजुम हसन भारतीय उपन्यासकार, लघु कथाकार, कवयित्री और सम्पादिका हैं। वह शिलांग, मेघालय में पैदा हुई थीं और वर्तमान में भारत के बैंगलोर, कर्नाटक में रहती हैं।

करियर[संपादित करें]

अंजुम हसन की पहली किताब 2006 में साहित्य अकादमी द्वारा प्रकाशित कविताओं का संग्रह स्ट्रीट ऑन द हिल थी।[1][2] उनका पहला उपन्यास लूनैटिक इन माई हेड को क्रॉसवर्ड बुक अवार्ड 2007 के लिए चुना गया था।[3] यह उपन्यास 1990 के दशक की शुरुआत में, अपने तीन मुख्य पात्रों की कहानियों को एक साथ बुनता है; एक आईएएस आकांक्षी जिस पर पिंक फ़्लॉइड का जुनून सवार है, एक कॉलेज छात्र जो अपनी पीएचडी करने के लिये संघर्ष कर रहा है और उसे प्यार पाने की लालसा भी है।

नेति, नेति शीर्षक से उनके दूसरे उपन्यास को 2008 के मैन एशियन लिटरेरी प्राइज के लिए सूचीबद्ध किया गया था। इसे 2010 में द हिंदू बेस्ट फिक्शन अवार्ड के लिए भी सूचीबद्ध किया गया था। यह एक पच्चीस वर्षीय सोफी दास की कहानी थी, जो कई सपने लिये है। वह शिलांग से बढ़ते हुए औद्योगिक शहर बैंगलोर में जाना चाहती है। एक समीक्षा के अनुसार "नेति, नेति असामान्य रूप से मुक्त और अप्रत्याशित रूप से खोए हुए बहादुर नए भारत के मध्यम वर्गीय युवाओं का सहानुभूतिपूर्ण चित्रण करता है।"[4]

उनका लघु-कहानी संग्रह, डिफिकल्ट प्लेसर्ज़, द हिंदू बेस्ट फिक्शन अवार्ड और क्रॉसवर्ड बुक अवार्ड के लिए सूचीबद्ध किया गया था।[5] लूनैटिक इन माई हेड, नेति, नेति (बिग गर्ल नाउ के रूप में) और डिफिकल्ट प्लेसर्ज़ सभी ऑस्ट्रेलिया में ब्रास मंकी बुक्स से प्रकाशित हुए हैं।

उनका तीसरा उपन्यास कॉस्मोपॉलिटन 2015 में पेंगुइन बूक्स इंडिया और 2016 में ब्रियो बुक्स ऑस्ट्रेलिया से प्रकाशित हुआ।[6] समीक्षाओं ने कहा "प्रखर बुद्धिमत्तापूर्ण युक्त", "अपनी शक्तियों के चरम पर एक लेखिका" और "एक दुर्लभ चीज: विचारों से भरा एक उपन्यास"।[7][8] उन्होंने विभिन्न राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशनों में कविताओं, लेखों और लघु कथाओं में भी योगदान दिया है। वह वर्तमान में द कैरेवन के लिए बुक्स एडिटर हैं।[9]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Review of Street on the Hill in The Hindu Literary Review
  2. "Review of Street on the Hill in Tehelka" (PDF).
  3. "Lunatic in my head on Crossword Book Award shortlist".
  4. "Review of Neti Neti in Outlook".
  5. Staff writer (February 17, 2013). "The Hindu Literary Prize goes to Jerry Pinto". The Hindu. अभिगमन तिथि February 18, 2013.
  6. "Brio Books".
  7. "India Express Review of The Cosmopolitans".
  8. "Mint Lounge Review of The Cosmopolitans".
  9. The Caravan