अंजली भारती

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

अंजली भारती (जन्म: 17 मार्च 1972, शाहजहाँपुर) भारत से हिन्दी की एक लेखिका हैं।[1]

प्रमुख कृतियाँ[संपादित करें]

अंजली भारती का पहला उपन्यास "घर-परिवार और रिश्ते" है, जिसे पहले सावित्री प्रकाशन और फिर बाद में आत्माराम एंड संस ने प्रकाशित किया।[2]। उनके उपन्यास "स्वयंसिद्धा" को आत्माराम एण्ड सन्स ने मई ०२, २००७ को प्रकाशित किया था।[3] यह उस स्त्री की कहानी है जिससे उसके अपनों ने ही सब कुछ छीन लिया था, उसने वह कुछ वापस पाया। पर अन्त में लगा कि सब कुछ पाकर भी कहीं कुछ शून्य है। वह शून्य जो समय के बीत जाने पर भी ज्यों का त्यों खड़ा है लेकिन मान है जो खड़ा है कि अपनी सामर्थ्य भर जीवन को जीया जाय।[4]

इसके अलावा उनकी कुछ और महत्त्वपूर्ण कृतियाँ क्रमश: "नाभि-मुद्रा-योग",[5][6][7]"दहक",[8],"भारत तिब्बत चीन सामायिक चर्चा"[9]आदि है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. अंजली भारती की पुस्तक घर, परिवार और रिश्ते में संक्षिप्त परिचय
  2. अंजली भारती (हिन्दी में). घर-परिवार और रिश्ते. सावित्री प्रकाशन एवं आत्माराम एंड संस, नई दिल्ली. प॰ 158. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-9702-003-7. 
  3. अंजली भारती (हिन्दी में). स्वयंसिद्धा. आत्माराम एण्ड सन्स, प्रकाशन: मई ०२, २००७, सजिल्द. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-7043-702-4. 
  4. http://pustak.org/home.php?bookid=5103
  5. अंजली भारती (हिन्दी में). नाभि-मुद्रा-योग. इमपेरशन बुक्स नई दिल्ली, प्रकाशन वर्ष: 2009, सजिल्द. प॰ 192. 
  6. गूगल बूक पर नाभि-मुद्रा-योग पुस्तक
  7. दी के पर नाभि-मुद्रा-योग
  8. अंजली भारती (हिन्दी में). दहक. स्वास्तिक प्रकाशन नई दिल्ली, प्रकाशन वर्ष: 2008, सजिल्द. प॰ 192. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-88090-16-6. 
  9. अंजली भारती (हिन्दी में). भारत तिब्बत चीन सामायिक चर्चा. न्यू कौनसेप्ट पब्लिकेशन, प्रकाशन वर्ष: 2011. प॰ 120.